मंच पर गुलाब देवी से उनके पास जाकर मिले पीएम मोदी, जानें इनके बारे में

नई दिल्ली ( 19 मार्च ): विधानसभा क्षेत्र चन्दौसी से विजयी हुई विधायक गुलाब देवी को यूपी सरकार में राज्य मंत्री बनाया गया है।

गुलाब देवी ने मंच पर शपथ लेने के बाद पीएम मोदी का पैर छूकर अपने स्थान पर चलीं गईं, लेकिन उसके बाद पीएम मोदी खुद उनके पास पहुंचे और उनसे बात की। 


राजनीतिक करियर

गुलाब देवी चन्दौसी की स्थानीय निवासी हैं। इन्होंने बीए तथा एसएम कॉलेज से एमए की डिग्री हासिल की और बीएड भी यहीं से किया। वर्ष 1989 एवं 1990 में सभासद का चुनाव लड़ा और जीतीं और इसके बाद उनका राजनीतिक करियर परवान चढ़ा। वर्ष 1991 में पहली बार चुनाव जीतीं और वर्ष 1996 में राज्यमंत्री बनीं। वर्ष 2007 और वर्ष 2012 में गुलाब देवी चुनाव हार गईं। 1991 में जब भाजपा के टिकट पर गुलाब देवी ने चुनाव लड़ा तो पहली बार चुनाव में जनता दल के यादराम को छह हजार दौ सौ छप्पन वोटों से हराया। वर्ष 1993 में हुए उपचुनाव में उन्हें हार का सामना करना पड़ा और ये चुनाव 1993 में सपा से करन सिंह ने जीता।


वर्ष 1996 में गुलाब देवी ने फिर इस सीट से जीत हासिल की और बसपा से चुनाव लड़े करन सिंह को पैंतीस हजार दौ सौ उनसठ वोटों से हराया।


2017 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने संभल की चंदौसी सीट से गुलाब देवी को मैदान में उतारा था। वो पार्टी के दलित चेहरे के रूप में भी जानी जाती हैं। इस बार चुनाव में गुलाब देवी ने सपा-कांग्रेस गठबंधन की प्रत्याशी विमलेश कुमारी को हराया। गुलाब की यह जीत संभल की सबसे बड़ी जीत थी।


कब-कब जीतीं चुनाव

1991 गुलाब देवी (जीतीं) 29,285

1996 गुलाब देवी (जीतीं) 61,382

2002 गुलाब देवी (जीतीं) 40288

2007 गुलाब देवी (तीसरे नंबर पर) 30,592

2012 गुलाब देवी (दूसरे नंबर पर) 51,864

2017 गुलाब देवी (जीतीं) 104518