कश्मीरियत, जम्हूरियत और इंसानियत के मंत्र से घाटी को नई ऊंचाई पर ले जाएंगे- PM


उधमपुर (2 अप्रैल): PM मोदी जम्मू-श्रीनगर हाईवे पर चेनानी और नाशिरी के बीच देश की सबसे लंबी सड़क सुरंग का उद्घाटन करने के बाद उधमपुर में एक जनसभा को संबोधित किया। जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि कश्मीरियत, जम्हूरियत और इंसानियत का जो मंत्र बाजपेयी जी ने दिया था वो उसके को लेकर आगे बढ़ेंगे।


साथ ही प्रधानमंत्री ने पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए कहा कि सीमा पार बैठे लोग खुद को ही नहीं संभाल पा रहे हैं। मोदी ने इस रैली की शुरुआत में ही सबसे मोबाइल फोन निकलवाकर उनकी फ्लैश लाइट ऑन करवाई और 'भारत माता की जय' बोलने के लिए कहा।


अगर एक सुरंग कश्मीर का भाग्यविधाता बन सकता है तो हम ऐसे 9 सुरंग बनाने वाले हैं। ये केवल रास्तों का नहीं दिलों का नेटवर्क होगा। मोदी ने रैली को संबोधित करते हुए कहा कि इस सुरंग के निर्माण में जम्मू कश्मीर के युवाओं का पसीना लगा है।  उन्होंने कहा कि कुछ नौजवान पत्थर काटकर सुरंग बना रहे हैं, कुछ पत्थर फेंक रहे हैं। मोदी ने कहा कि कश्मीर के लोगों को पत्थर की ताकत को समझना होगा।


पीएम मोदी की बड़ी बातें...


- कश्मीरियत, जम्हूरियत और इंसानियत ने घाटी को विकास की नई ऊंचाईयों पर ले जाएंगे


- कश्मीर में ऐसी 9 सुरंग बनाने की योजना है


- हिंदुस्तान से कश्मीर का जुड़ाव केवल रास्तों का नहीं होगा, दिलों का नेटवर्क बनने वाला है


- यह सुरंग कश्मीर के लिए नए रोजगार के मार्ग खोलेगा


- हिमालय की कोख में यह सुरंग बिछाकर हमने हिमालय की रक्षा की है


-मैं कश्मीर के नौजवानों को कहता हूं। पत्थर की ताकत क्या होती है। एक तरफ कुछ नौजवान पत्थर मारने में लगे हैं और कुछ ने पत्थर काट कर यह सुरंग बना दी


- कश्मीर के युवाओं को आतंकवाद और पर्यटन में एक रास्ता चुनना होगा