कावेरी जल विवाद पर पीएम मोदी की अपील

नई दिल्ली(13 सितंबर): कावेरी जल को लेकर हो रहे विवाद पर प्रधानमंत्री ने दोनों राज्यों के लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है। मोदी ने कहा है कि ये मामला जिस तरह का रंग लेता जा रहा है उससे वो व्यक्तिगत तौर पर बहुत दुखी हैं। उन्होने प्रदर्शनकारियों और दोनों राज्यों की जनता से संवेदनशीलता और राष्ट्रहित को ध्यान में रखने की अपील की है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील

मेरे प्यारे भाइयों और बहनों,

कावेरी पानी के बंटवारे पर जिस तरह के हालात कर्नाटक-तमिलनाडु में बने हैं, वो बहुत दुखद हैं। मुझे व्यक्तिगत पीड़ा है। किसी भी समस्या का हल हिंसा के द्वारा नहीं निकाला जा सकता। लोकतंत्र में समाधान संयम और आपसी बातचीत से ही निकलता है। 

इस विवाद का हल कानून की परिधि में ही संभव है। कानून तोड़ना विकल्प नहीं है। पिछले दो दिन से जिस तरह की हिंसा और आगजनी हो रही है उसमें नुकसान किसी गरीब का ही हो रहा है, हमारे देश की ही संपत्ति का हो रहा है।  देश के सामने आई विपरीत परिस्थितियों में, पूरे देश के लोगों की तरह, कर्नाटक और तमिलनाडु के लोगों ने हमेशा पूरी संवेदनशीलता का परिचय दिया है। मेरी कर्नाटक और तमिलनाडु की जनता से अपील है कि संवेदनशीलता दिखाने के साथ ही अपने नागरिक कर्तव्यों को भी याद रखें।

मुझे भरोसा है कि आप राष्ट्रहित और राष्ट्रनिर्माण को सर्वोपरि समझेंगे और हिंसा, तोड़फोड़-आगजनी के बजाय संयम, सद्भावना और समाधान को प्राथमिकता देंगे।