पीएम मोदी ने रूस की जमीन से आतंकवाद को लेकर पाकिस्तान पर बोला हमला

नई दिल्ली ( 3 जून ): प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिना नाम लिए आतंकवाद को पालने पोसने वाले पाकिस्तान पर जमकर हमला बोला। पीएम मोदी ने कश्मीरी आतंकवादियों को पाकिस्तान के सहयोग की ओर परोक्ष रूप से इशारा किया। उन्होंने कहा कि आतंकवादियों के वित्तपोषण, हथियार और संचार माध्यमों पर रोक लगाने की जरूरत है।


मोदी ने कार्यक्रम में संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरस की मौजूदगी पर ध्यान देते हुए इस बात पर खेद जताया कि संयुक्त राष्ट्र के सामने आतंकवाद और आतंकवादियों की मदद करने वालों को लेकर परिभाषा संबन्धी एक प्रस्ताव 40 साल से लंबित है।


पीएम मोदी ने कश्मीर में आतंकियों की घुसपैठ कराने, उनको हथियार और आर्थिक मदद देने वाले पाकिस्तान की करतूत को सबके सामने रखा। आतंकवाद को मानवता का दुश्मन बताते हुए मोदी ने विश्व समुदाय का आह्वान किया कि वे आतंकवाद के खतरे का मुकाबला करने के लिए एक साथ आएं।


सेंट पीटर्सबर्ग इंटरनेशनल इकोनामिक फोरम में चर्चा के दौरान पीएम मोदी ने कहा कि दुनिया को अच्छे आतंकवाद और बुरे आतंकवाद की चर्चा से आगे बढ़ना चाहिए। साथ ही आतंकवादियों को आर्थिक मदद और हथियारों की आपूर्ति बंद होनी चाहिए। रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की मौजूदगी में मोदी ने कहा कि आतंकियों के संचार के तरीकों पर रोक लगनी चाहिए।


मोदी से सहमति जताते हुए पुतिन ने कहा कि भारत आतंकवाद के कारण एक गंभीर समस्या का सामना कर रहा है और यह कोई काल्पनिक चीज नहीं है। एक सवाल के जवाब में मोदी ने कहा, आतंकवादी हथियारों का निर्माण नहीं करते, लेकिन कुछ देश उन्हें बंदूकों की आपूर्ति करते हैं।


उन्होंने कहा कि इसी तरह से आतंकवादी मुद्रा नहीं छापते हैं, लेकिन कुछ देश मनी लॉन्ड्रिंग के जरिए उनको आर्थिक मदद करते हैं। आतंकवादियों के पास अपनी संचार प्रणाली या सोशल मीडिया नेटवर्क नहीं है, लेकिन कुछ देश उनकी मदद करते हैं। पीएम मोदी का निशाना पाकिस्तान पर था, लेकिन उन्होंने किसी देश का नाम नहीं लिया।