मोदी ने सेना को किया नमन, कुछ लोग कहते थे कुछ नहीं करता

भोपाल ( 14 अक्टूबर ) : शौर्य स्मारक के उद्घाटन कै मौके पर पूर्व सैनिकों को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 'शहीदों अमर रहो' का नारा दिया.पीएम ने कहा कि भारतीय सेना मानवता की बड़ी मिसाल है।  लोगों को बचाने के लिए जवान जान खपा देते हैं।  यह मेरा सौभाग्य है कि इस ऐतिहासिक दिन पर यहां हमारे बहादुर सैनिकों को मुझे श्रद्धांजलि अर्पित करने का अवसर मिला।  श्रीनगर में बाढ़ पीड़ितों को बचाने के लिए जवानों ने जान लगाई। सेना ने कभी नहीं सोचा कि ये पत्थर फेंकते हैं।  मेरी सेना की मानवता देखिए।  शांति के क्षेत्र में भारत का सबसे बड़ा योगदान। हमने विश्व को जीतने में सफलता पाई है। 

किसी देश को हड़पने के लिए युद्ध नहीं ...  पीएम ने आतंकवाद पर कहा कि आतंकवाद ने भयंकर रूप ले लिया है। पश्चिम एशिया आतंकवाद से घिरा हुआ है।  सेना ने यमन में हजारों लोगों को बचाया। हमारी सेना पाकिस्तान के लोगों को भी बचाकर लाई।  हमने कभी किसी देश को हड़पने के लिए युद्ध नहीं किया।  कभी जमीन के लिए झगड़ा नहीं किया।  हमारी सेना मानवता के मूल्यों से कभी पीछे नहीं हटी।  सैनिकों ने अपनी जवानी खपा दी। दोनों विश्व युद्धों में हमारी सेना ने योगदान दिया। दो विश्व युद्धों के दौरान 1.5 लाख भारतीय सैनिकों से लड़ाई लड़ी और अपनी जान गंवाई।  विश्व को यह कभी नहीं भूलना चाहिए। 

सेना का सबसे बड़ा शस्त्र मनोबल है।  सेना बोलती नहीं, पराक्रम करती है।  वैसे ही हमारे रक्षा मंत्री भी नहीं बोलते।  पीएम ने कहा कि पहले मेरे रोज बाल नोचे जाते थे कि मोदी कुछ करता नहीं। 

सैनिकों से किया वादा पूरा किया... पीएम ने कहा कि हमने वन रैंक, वन पेंशन का वादा पूरा किया। इसे हम चार किश्त में पूरी तरह वितरित कर देंगे।  हमारे सैनिकों ने कभी OROP के लिए झगड़ा नहीं किया।  पहले हवलदार को 4090 रुपये मिलते थे, अब 7600 रुपया मिलता है।  तेजी से सैनिकों की समस्याएं सुलझा रहे हैं।  रिटायर फौजियों के लिए रोजगार के अवसर पैदा किए।  स्किल डेवलेपमेंट सर्टिफिकेट देने की शुरुआत की।  

शौर्यता की एक और मिसाल ... इस मौके पीएम से साथ मौजूद रक्षा मंत्री ने कहा कि 29 सितंबर को जवानों ने शौर्यता की एक और मिसाल कायक की।  शौर्य स्मारक के लिए सरकार का अभिनंदन करता हूं। देश में शौर्य की कमी नहीं है। 

सैनिकों की बदौलत चैन से सोते हैं...

राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि सैनिकों की बदौलत हम चैन से सोते हैं। पूरा देश जवानों का कर्जदार है।  सर्जिकल स्ट्राइक पर शिवराज ने कहा कि हमारी सेना आतंकियों को मारकर सुरक्षित लौट आती है।  देश के लिए जीना पीएम से सीखें।  हमारे प्रधानमंत्री सुपर मानव हैं।  मुख्यमंत्री ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि कुछ लोगों ने सिर्फ अपने परिवार के सदस्यों के स्मारक बनाए।