शिंजो आबे के बाद अब फ्रांस के राष्ट्रपति को गंगा आरती दिखाएंगे पीएम मोदी

नई दिल्ली (05 मार्च): फ्रांस के राष्ट्रपति एमैनुअल मैक्रों 9 मार्च को भारत के 4 दिनों के दौरे पर आ रहे हैं। 4 दिनों के दौरे के दौरान फ्रांस के प्रेसिडेंट इमैनुअल मैक्रो 12 मार्च को वाराणसी जाएंगे, जहां पीएम मोदी फ्रांस के प्रेसिडेंट को बुलेटप्रूफ बोट में काशी की यात्रा कराएँगे। इस दौरान दोनों नेता गंगा आरती भी देखेंगे। 

गंगा आरती का आयोजन दशाश्वमेध और अस्सी में से किसी एक घाट पर हो सकता है। आपको बता दें कि इससे पहले जापान के पीएम शिंजो आबे भी गंगा आरती में शामिल हो चुके हैं। 

राष्ट्रपति एमैनुअल मैक्रों के दौरे के दौरान भारत और फ्रांस के बीच रक्षा समेत कई बड़े समझौते होने के आसार हैं। मैक्रों की यात्रा के दौरान जैतपुर न्यूक्लियर पॉवर प्रोजेक्ट के समझौते पर दस्तखत होने की उम्मीद है।

इसके एक दिन बाद इंटरनेशनल सोलर अलायंस (आइएसए) की बैठक होगी, जिसमें दोनों नेता भाग लेंगे। यह इसकी पहली बैठक होगी। सौर ऊर्जा के बेहतर इस्तेमाल को लेकर मोदी व मैक्रों से पूर्व फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांसिस हॉलेंडे ने दो साल पहले इस पर काम शुरू किया था। मैक्रों के साथ उनकी पत्नी ब्रिगिटे मेराइ-क्लाउडे मैक्रों भी भारत आ रही हैं।