भारत में जापान बना दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा निवेशक

अहमदाबाद (14 सितंबर): पीएम मोदी और जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने आज गांधी नगर में द्विपक्षीय वार्ता की। इस दौरान भारत और जापान के बीच पंद्रह समझौते हुए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और जापानी पीएम शिंजो एबी की मौजूदगी में समझौते पर दस्‍तखत किए गए। इसके बाद साझा बयान में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुलेट ट्रेन प्रोजेक्‍ट के भारत में आगमन का श्रेय जापान को दिया और जापानी पीएम शिंजो एबी को अपना सबसे अच्‍छा मित्र बताया। मोदी ने कहा कि जापान के मेरे पिछले दौरे पर हमने न्यूक्लियर सप्लाई पर हस्ताक्षर किए. क्लीन एनर्जी और क्लाइमेट चेंज के लिए हमारा प्रयास बहुत ही महत्वपूर्ण है। वहीं जापानी पीएम ने भारत के डिजिटल इंडिया व मेक इन इंडिया प्रोजेक्‍ट के प्रति अपना समर्थन जताया।

जापान ने 2016-17 में 4.7 बिलियन डॉलर भारत में निवेश किया है, जोकि पिछले साल के मुकाबले 80 प्रतिशत ज्यादा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत में जापानी निवेश के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि जापान ने 2016-17 में भारत में 4.7 बिलियन डॉलर का निवेश किया है, जो पिछले साल के मुकाबले 80 फीसदी ज्यादा है। पीएम मोदी ने बताया कि जापान अब भारत में तीसरा सबसे बड़ा निवेशक बन चुका है और यह दोनों देशों के बीच विश्वास के स्तर को दिखाता है।

भारत और जापान के मजबूत होते रिश्तों के बारे में बात करते हुए मोदी ने कहा कि यहां रहने वाले जापानी नागरिकों की संख्या में वृद्धि होगी। उन्होंने कहा कि मैं चाहता हूं कि भारत में ज्यादा से ज्यादा जापानी रेस्तरां खोले जाएं। उन्होंने कहा कि जापान भारत में फूड इंडस्ट्री से रेस्टोरेंट खोलेगा। PM मोदी ने कहा कि ‘मेक इन इंडिया’ जापानियों के लिए एक बड़ा मौका है।