'शौचालय' के लिए 104 वर्षीय महिला ने बकरियां बेच दीं, PM ने किया सम्मान

नई दिल्ली (21 फरवरी): प्रधानमंत्री मोदी ने रविवार को छत्तीसगढ़ के धामतारी जिले की 104 वर्षीय महिला की खास तौर पर तारीफ की। इस महिला ने अपने घर में शौचालय बनाने के लिए अपनी बकरियां बेच दीं। पीएम ने कहा कि यह बदलाव का एक बड़ा संकेत है।

'डीएनए' की रिपोर्ट के मुताबिक, पीएम मोदी ने धामतारी जिले के कोटाभारी गांव की कुंवर बाई को उनके गांव से खुले में शौच को खत्म करने के प्रयासों के लिए सम्मानित किया। राज्य के नक्सल प्रभावित राजनंदगांव जिले के कुर्रुभाट गांव में 'रुर्बन मिशन' के शुरुआत के मौके पर कुंवर बाई को सम्मानित किया।

प्रधानमंत्री ने कार्यक्रम के दौरान दो डेवलेपमेंट ब्लॉक्स- अम्बागढ़ चौकी और राजनंदगांव के छुरिया को खुले में मलत्याग से मुक्त कराए जाने की घोषणा की। पीएम मोदी ने कहा, "104 साल की एक बुजुर्ग महिला जो दूर गांव में रहती है। ना टीवी देखती है ना पेपर पढ़ती है, लेकिन उस तक किसी तरह स्वच्छ भारत मिशन का शौचालय बनाने का संदेश पहुंच गया। उसने शौचालय बनाने के लिए अपनी बकरियां बेच दीं। साथ ही गांव के दूसरे लोगों को भी इसके लिए प्रेरित किया।" 

बता दें, कुंवर बाई ने अपनी 8-10 बकरियों को घर में शौचालय बनाने के लिए बेच दिया। जिसके बाद, उन्होंने दूसरे गांववालों को भी शौचालय दिथाना शुरू किया। साथ ही इसके महत्व को भी बताया। अब गांव के हर घर में शौचालय है।