एक हफ्ते में ही भूखा मरा पाकिस्तान, हटाएगा भारतीय फिल्मों से प्रतिबंध

नई दिल्ली ( 25 अक्टूबर ) : भारतीय सेना द्वारा राज ठाकरे की पार्टी एमएनएस को नसीहत देने के बाद आज पाकिस्तान के थिएटर मालिकों ने कहा उनकी भारतीय फिल्मों की स्क्रीनिंग पर लगी रोक हटाने की योजना है। यह बातें पाकिस्तान के एक अखाबर ने लिखी हैं। 

उन्होंने कहा भारतीय सेना का बयान सीमा के दूसरी तरफ के नजरिए में बदलाव क पर्याप्त सबूत है। फवाद खान की फिल्म भारत में रिलीज हो रही है। थिएटरों मालिकों की रविवार को हुई मीटिंग में प्रतिबंध हटाने का फैसला लिया गया। 

आपको बता दें कि करन जौहर की फिल्म ए दिल है मुश्किल में फवाद खान हैं। उरी हमले के बाद ए दिल है मुश्किल को रिलीज करने को लेकर कापी बवाल मचा था। मनसे का कहना था कि हम इसको रिलजी नहीं होंने देंगे, लेकिन बाद यह विवाद खत्म हो गया।  मुंबई पुलिस और भारत सरकार के अधिकारियों ने फिल्म के निर्देशक करण जौहर को आश्वासन दिया है कि उनकी फिल्म को रिलीज को पूरी सुरक्षा दी जाएगी। 

उरी हमले के बाद इंडियन मोशन पिक्चर्स प्रोड्यूसर्स एसोसिएशन (IMPPA) ने बाॅलीवुड में पाकिस्तानी कलाकारों के काम करने पर रोक लगा दिया था। 

पाकिस्तानी थिएटर मालिकों का कहना है कि पाकिस्तान थिएटरों को अपनी कमाई के लिए भारतीय फिल्मों का भरोसा है।