इस फार्मूले से 5 साल में किसान को गरीब से अमीर बना देंगे प्रधानमंत्री मोदी !

नई दिल्ली (23 अक्टूबर): सरकार खेती-बाड़ी का हाल सुधारना चाहती है। इसके लिए वह कई उपायों पर विचार कर रही है। जिन कदमों पर सरकार विचार कर रही है, उनके मुताबिक कॉन्ट्रैक्ट पर खेती के नियमों को उदार बनाया जाएगा, प्राइवेट प्लेयर्स को किसानों से सीधे फसल खरीदने का मौका दिया जाएगा। किसानों को सीधे कंज्यूमर्स को फसल बेचने की सहूलियत दी जाएगी। सिंगल ट्रेडर लाइसेंस दिए जाएंगे। टैक्स एक ही पॉइंट पर लगाए जाएंगे और फल-सब्जियों को मंडी कानूनों के दायरे से बाहर किया जाएगा।

ये रिफॉर्म्स नीति आयोग की ओर से तैयार ब्लूप्रिंट का हिस्सा हैं। आयोग के मुताबिक ब्लूप्रिंट में सुझाए गए कदमों से ग्रामीण इलाकों में लोगों की आमदनी पांच वर्षों में दोगुनी हो जाएगी, जिसका वादा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया था। नीति आयोग ने कृषि क्षेत्र में सुधारों के लिए शॉर्ट टर्म में तीन बातों पर फोकस करने को कहा है। इनमें राज्य स्तर पर एग्रीकल्चर मार्केटिंग रिफॉर्म्स, लैंड लीजिंग रिफॉर्म्स और फॉरेस्ट्री रिफॉर्म्स शामिल हैं।