तीसरे विश्व युद्ध की तैयारी! #IndiaUS की नजदीकी से डरे चीन ने शुरू की सबसे बड़ी मिलिट्री ड्रिल

डॉ. संदीप कोहली,नई दिल्ली (6 फरवरी):  भारत की अमेरिका और जापान से बढ़ती दोस्ती, दक्षिण चीन सागर विवाद और वन चाइना पॉलिसी पर अमेरिका से बढ़ती तनातनी ने चीन की चिंता बढ़ा दी है... बौखलाया चीन दुनिया के सामने अपनी सैन्य शक्ति दिखाकर अपना वर्चस्व साबित करने की कोशिश कर रहा है... इसी कड़ी में उसने पहले दस न्यूक्लियर वारहेड को लेकर जाने वाली इंटरकांटिनेंटल बैलिस्टिक मिसाइल का परिक्षण किया और अब मध्यम दूरी की मारक क्षमता वाली बैलिस्टिक मिसाइल के साथ सबसे बड़ी मिलिट्री ड्रिल कर रहा है... चीन ने इन मिसाइल टेस्ट के साथ अपने नई सैन्य बल रॉकेट फोर्स को अत्याधुनिक बना लिया है... जो भारत, जापान और अमेरिका समेत दुनिया के कई देशों के लिए खतरा साबित हो सकता है...

चीन ने मिलिट्री ड्रिल का वीडियो किया जारी- चीन के सरकारी अखबार चाइना डेली में सोमवार को यह खबर छापी है साथ ही वेबसाइट पर एक वीडियो भी अपलोड किया गया है... खबर के मुताबिक इस युद्धाभ्यास में दो तरह के DF-16 बैलिस्टिक मिसाइल को दिखाया गया है... ऐसा तीसरी बार है जब सार्वजनिक तौर पर इस तरह DF-16 को दिखाया जा रहा है... सबसे पहले इस मिसाइल को सितंबर 2015 में दुनिया के सामने बीजिंग में हुई मिलिट्री परेड में दिखाया गया था... वैसे चीन की सेना पीपुल्स लिबरेशन आर्मी PLA जो अपने हथियारों से संबंधित सूचनाओं को काफी गोपनीय रखता है... उसने दुनिया को अपनी ताकत दिखाने के लिए बैलिस्टिक मिसाइल से किए जा रहे सेना के युद्धाभ्यास का वीडियो जारी किया है...

ट्रंप के राष्ट्रपति बनने के बाद से चीन दिखा रहा है आक्रामक तेवर- डोनाल्ड ट्रंप के राष्ट्रपति बनने के बाद से ही चीन लगातार ताइवान को लेकर आक्रामकता दिखा रहा है... ताइवान के राष्ट्रपति के साथ ट्रंप की बातचीत के बाद से चीन लगातार यह रुख अपना रहा है... ट्रंप की इस बातचीत पर आपत्ति जताते हुए चीन ने अपने फर्स्ट एयरक्राफ्ट कैरियर को ताइवान जलडमरूमध्य भेजा था... साथ ही अपना एयरक्राफ्ट प्रशांत महासागर में स्थित फर्स्ट आइलैंड चेन में भी भेजा... इसके अलावा, चीन ने विवादित दक्षिणी चीन सागर क्षेत्र में भी नौसेना अभ्यास किया... चीन ने रूस के साथ सटी अपनी सीमा के पास एक लंबी दूरी के मिसाइल को भी तैनात किया है... रूस की मीडिया का कहना है कि इस मिसाइल का निशाना अमेरिका की ओर है...

चीन के पास मौजूद हैं दुनिया को तबाह करने वाली घातक मिसाइल

डीएफ (डोंगफेंग)-41: रेंज 15000 किमी- ये चीन की इंटरकॉन्टिनेन्टल बैलिस्टिक मिसाइल है। ये 12000 से 15000 किमी की रेंज में जबरदस्त हमला करती है। ये दुनिया की पहली मिसाइल है, जो सबसे दूर तक मार करने वाली है। इसकी स्पीड 30 हजार किमी प्रतिघंटा है और इसका वजन 80 हजार किग्रा है।

डीएफ-5: चीन की ये इंटरकॉन्टिनेन्टल बैलिस्टिक मिसाइल भी 12000 से 15000 किमी की रेंज में हमला करती है। इसकी स्पीड 26950 km/h है। इसका वजन 1.83 लाख किग्रा है।

डीएफ-5B: द्रवीय ईंधन से चालित यह अंतरमहाद्वीपीय बैलेस्टिक मिसाइल तीन से अधिक परमाणु हथियार लेकर 15000 किमी दूर तक मार कर सकता है।

डीएफ-31: चीन की ये इंटरकॉन्टिनेन्टल बैलिस्टिक मिसाइल भी 8000 से 11200 किमी की रेंज में हमला करती है। इसका वजन 42000 किग्रा है। एेसा माना जाता है कि इस मिसाइल में कई एडवांस टेक्नोलॉजी हैं।

डीएफ-JL2: ये चीन की सबमरीन से लॉन्च होने वाली बैलिस्टिक मिसाइल है। ये 7200 किमी की रेंज में सबकुछ तबाह कर देती है। इसका वजन 42 हजार किग्रा है। इसे चीन के सबसे घातक हथियारों में शामिल किया जाता है।

डीएफ-4: ये भी चीन की इंटरकॉन्टिनेन्टल बैलिस्टिक मिसाइल है। ये 5500 की रेंज में मार करती है। इसका वजन 82000 किग्रा है। इसमें 2190 किग्रा के न्यूक्लियर हथियार होते हैं।

डीएफ-26: चार हजार किलोमीटर दूर तक हमला करनेवाले इस मिसाइल को ‘गुआम किलर’ की संज्ञा दी जाती है क्योंकि गुआम में स्थित अमेरिकी नौसैनिक बेड़ा इसके दायरे में है।

डीएफ-21C:ये चीन की मीडियम रेंज बैलिस्टक मिसाइल है। ये 1750 किमी से ज्यादा की रेंज में मार करती है। इसका वजन 14700 किग्रा है। चीन ने इस मिसाइल को 1991 से सेना में शामिल किया था।

डीएफ-21D: युद्धपोतों को नष्ट करने की क्षमता रखनेवाला यह बैलेस्टिक मिसाइल 1,450 किलोमीटर दूर तक जा सकता है।

डीएफ-10: ये चीन की जमीन से मार करने वाली क्रूज मिसाइल है। ये 3000 किमी की रेंज में मार करती है। जब ये मिसाइल आई थी, तब अमेरिका की चिन्ता बढ़ गई थी। उसने इसे लेकर सीक्रेट रिपोर्ट भी तैयार की थी।

डीएफ-3: ये चीन की इंटरमिजिएट रेंज बैलिस्टक मिसाइल है। ये 3000 किमी से ज्यादा की रेंज में मार करती है। इन मिसाइलों को चीन ने सऊदी अरब को भी बेचा है।

डीएफ-11a: ये चीन की शॉर्ट रेंज बैलिस्टक मिसाइल है। ये 300 किमी की रेंज में मार करती है। इसका वजन 4200 किग्रा है।

डीएफ-15: ये चीन की शॉर्ट रेंज बैलिस्टक मिसाइल है। ये 600 किमी की रेंज में मार करती है। इसका वजन 6200 किग्रा है। इसे 8 व्हील ट्रांसपोर्टर इरेक्टर लॉन्चर से दागा जाता है।

डीएफ-16: ये चीन की मीडियम रेंज बैलिस्टक मिसाइल है।  डीएफ-16 1000 किलोमीटर से ज्यादा की दूरी तक के लक्ष्य को भेद सकती है। इस मिसाइल की जद में चीन के दिआओयू द्वीप समूह से करीब 400 किलोमीटर दूर जापान का ओकीनावा द्वीप भी आता है।