अगले एक साल में 10 लाख लोगों को नौकरी देगी रेलवे

नई दिल्ली (5 अक्टूबर): रोजगार सृजन और जीडीपी के मुद्दे पर लगातार मोदी सरकार पर सवाल उठ रहे हैं। इन सबके बीच रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा है कि देश में रेलवे के इकोसिस्टम से जुड़े समूचे क्षेत्र में अलग-अलग तरह के कामकाज से एक साल के भीतर ही 10 लाख रोजगार के अवसरों का सृजन हो सकता है। विश्व आर्थिक मंच यानी WEF के भारत आर्थिक सम्मेलन को संबोधित करते हुए रेलमंत्री ने कहा कि रेलवे से जुड़े रियल एस्टेट्स के उचित दोहण और मौजूदा निवेश योजनाओं को रफ्तार देने से रेलवे और इसके आसपास के इकोसिस्टम में रोजगार के काफी अवसर पैदा होंगे।

रेल मंत्री ने कहा कि मेरा मानना है कि बेशक ये रेलवे में सीधी नौकरियां नहीं होंगी, लेकिन लोगों को जोड़कर और पूरे इको सिस्‍टम के विभिन्न क्षेत्रों में काम कर एक साल में कम से कम 10 लाख रोजगार के अवसर सृजित किए जा सकते हैं।

पीयूष गोयल ने कहा कि सरकार रेलवे ट्रैक और सुरक्षा रखरखाव कार्यक्रम पर तेजी से आगे बढ़ रही है। इनसे अकेले 2 लाख रोजगार के अवसर पैदा किए जा सकते हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि यदि मैं पाइपलाइन के निवेश को देखूं और उसे क्रियाशील करूं तो इससे मौजूदा परियोजनाओं में 2-2.5 लाख रोजगार पैदा किए जा सकते हैं।