गलत फोटो लगाने के बाद पीयूष गोयल ने हटायी ट्वीट, मांगी माफी

नई दिल्ली (21 अगस्त): केंद्रीय ऊर्जा पीयूष गोयल के एक ट्वीट पर विवाद खड़ा हो गया है। पीयूष गोयल ने रविवार को एक तस्वीर पोस्ट कर दावा किया कि मोदी सरकार ने भारतीय सड़कों को जगमगा दिया है। लेकिन ऊर्जा मंत्री ने अपने दावे में जिस तस्वीर का इस्तेमाल किया वो भारत बल्कि नहीं रूस की है। पीयूष गोयल ने रूस की इस तस्वीर को भारत का बताकर अपने ट्वीट में लिखा- सरकार ने 50 हजार किलोमीटर की सड़को को 30 लाख एलईडी लाइट्स से चमकाने का काम कर दिखाया है।

पीयूष गोयल द्वारा इस्तेमाल की गई ये फेक तस्वीर सोशल मीडिया पर लोगों की की निगाहों से बच नहीं पाई। लोगों ने इस तस्वीर की सच्चाई बयां करते हुए सरकार पर तंज कसा और ट्वीट किया कि कनाडा में एलईडी लाइट रिप्लेस करने के बाद अब बीजेपी ने रूस की लाइट्स भी रिप्लेस कर दीं।

जैसे ही फेक तस्वीर के इस्तेमाल की खबर केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल तक भी पहुंची उन्होंने तत्काल इस तस्वीर को हटा दिया। पीयूष गोयल ने अपनी गलती मानते हुए उन्हें तस्वीर की हकीकत बताने वाले लोगों का शुक्रिया करते हुए एक और ट्वीट किया। केंद्रीय मंत्री ने अपने इस ट्वीट में लिखा कि जिस तरह से हम सड़कों को रोशन कर रहे हैं उसी तरह सोशल मीडिया तथ्यों को उजागर कर हमें रोशनी दे रहा है।