मुंबई में भी उठी 'ऑड इवन फॉर्मूला' लागू करने की मांग, बॉम्बे HC में जनहित याचिका दायर

नई दिल्ली (14 जनवरी): बॉम्बे हाईकोर्ट में दिल्ली की तरह ही मुंबई की सड़कों पर प्राइवेट कारों पर भी ऑड इवन फॉर्मूला लागू करने की मांग को लेकर एक जनहित याचिका (पीआईएल) दायर की गई है। 

रिपोर्ट के मुताबिक, पीआईएल में कहा गया है कि शहर के निवासी भी वाहनों और म्यूनिसिपल कॉर्पोरेशन की तरफ से सॉलिड वेस्ट को जलाने से निकलने वाली कार्बन मोनोऑक्साइड की वजह से स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों का सामना कर रहे हैं। 

पीआईएल में कहा गया है कि मुंबई में दिल्ली की तुलना में कम वाहन हैं, फिर भी यह व्यस्त सड़कों, समुद्री किनारा होने के कारण स्पेस की कमी और डीजल वाहनों की संख्या में होने वाली बढ़ोतरी से वाहन उत्सर्जन में शीर्ष स्थान पर है। याचिका में कहा गया कि दिल्ली में वायु की खराब गुणवत्ता के कारण ऑड-इवन फॉर्मूला लागू किया गया। इसी तरह का अभ्यास मुंबई में भी शुरू किया जाना चाहिए। जिससे वायु प्रदूषण के स्तर में कमी की जा सके।

याचिका में अधिकारियों से एक समिति का गठन करने की भी मांग की गई है। जिससे वायु प्रदूषण का विश्लेषण किया जा सके। साथ ही इसमें कमी करने के लिए कदम उठाए जा सके। यह याचिका शादाब खान की तरफ से दायर की गई है। याचिका में शहर में डीजल वाहनों के रजिस्ट्रेशनस, इस्तेमाल और बिक्री को लेकर नियम बनाने की भी मांग की गई है।