ग्राहकों पर पड़ेगी मार, पेट्रोल और डीजल के लिए ढीली करनी होगी जेब


नई दिल्ली (1 अगस्त):
पेट्रोल और डीजल पर एक बार फिर दाम बढ़ने जा रहे हैं। सरकार ने ऑयल मार्केटिंग कंपनियों ने डीलरों का कमीशन बढ़ा दिया है, जिसके बाद इनके दामों में वृद्ध‍ि होगी। ग्राहक पेट्रोल और डीजल की जो कीमत अदा करते हैं, डीलरों का कमीशन भी उसी का एक हिस्‍सा होता है।

रिपोर्ट के अनुसार, पेट्रोल और डीजल के दैनिक भाव जो क्रूड ऑयल की अंतरराष्‍ट्रीय कीमतों के आधार पर तय किए जाते हैं, उनमें आज से बढ़ोतरी हो होगी। पेट्रोल में जहां एक रुपए प्रति लीटर की बढ़ोतरी होगी, वहीं डीजल के दाम 0.72 रुपए बढ़ेंगे। इस प्रकार पेट्रोल के दाम में अंतरराष्‍ट्रीय क्रूड ऑयल की कीमतों के अनुसार ही बढ़ोतरी या कमी होती रहेगी, लेकिन डीलरों के कमीशन के पैसे जुड़ने से पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ जाएंगे।

इससे पहले प्रॉफिट मार्जिन घटने को लेकर ऑल इंडिया पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन ने हड़ताल पर जाने की चेतावनी दी थी। बंसल के अनुसार, AIPDA लगातार प्रॉफिट मार्जिन में बढ़ोतरी का अनुरोध कर रहा था, क्‍योंकि डीलरों के वेतन खर्च में पिछले छह महीने में 42 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है। इसके अलावा पेट्रोल और डीजल की कीमतों में दैनिक बदलाव के कारण भी इनका प्रॉफिट मार्जिन प्रभावित हुआ है।