यहां मरने के बाद भी 'जिंदा' रहते हैं लोग...!

नई दिल्ली (30 जून): मौत हो जाने के बाद जहां शव को घर में रखना अशुभ माना जाता है वहीं दुनिया में एक ऐसा भी देश है जहां के कुछ लोग बुजुर्गों को मरने के बाद भी उनके शरीर को अपने साथ रखते हैं। जी हां, इंडोनेशिया में एक ऐसा संप्रदाय रहता है जो कि मौत के बाद अपने रिश्तेदारों के शव को दफनाना या जलाना पसंद नहीं करते। ये लोग न सिर्फ मुर्दों को साथ रखते हैं बल्कि उन्हें रोजमर्रा के जीवन में भी शामिल रखते हैं।

 इंडोनेशिया के टोराजा संप्रदाय के लोग मानते हैं कि मौत जीवन का अंत नहीं है और जो मर गया वो भी जिंदा है। ये लोग न सिर्फ मुर्दों को साथ रखते हैं बल्कि उन्हें खाना भी खिलाते हैं। मुर्दों को साथ रखने की इस परंपरा को लाखों लोग मानते हैं। इस संप्रदाय में जब किसी की मृत्यु हो जाती है तो उसे दफनाने की जगह एक भैंस की बलि दी जाती है। यहां मृत्यु को लोग एक उत्सव की तरह मनाते हैं और बाहर से आए लोगों को मुर्दों से मिलवाया भी जाता है। मृत व्यक्ति को पैतृक दुर्ग में खाने के सामान और सिगरेट के साथ रखते हैं। इसके बाद मृत शरीर को कई वर्षों तक सुरक्षित रखने के लिए उसके शरीर को फॉर्मल्डहाइड और पानी के घोल से सुरक्षित रखते हैं।