इस गांव में रात को गायब हो जाती हैं लोगों की उंगलियां...

नई दिल्ली (23 जुलाई): मध्य प्रदेश से एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। यहां पर चूहे रोज घर में सो रहे जिंदा इंसानों का मांस खा जाते हैं। सुबह होते ही किसी न किसी शख्स को उंगलिया गायब ही होती हैं।

मामला उज्जैन शहर से छह किलोमीटर दूसर हामूखेड़ी गांव का है, जहां जंगली चूहों सोए हुए लोगों का मांस खा जाते हैं। आलम तो यह है कि चूहों के डर से लोगों ने रात को जूतों आदि पहनकर सोना शुरू कर दिया है, ताकि उनके चूहे उनके अंगों को न खा सकें।

- गांव में रहने वाले करीब 250 लोगों में से 50 की उम्र पार कर चुके कई लोग कुष्ठ रोग से पीड़ित हैं। - कुष्ठ रोग के कारण उनकी हाथ पैर की उंगुलियां सिकुड़ गई हैं और शरीर के कई हिस्से सुन्न पड़ गए हैं। - उन्हें यदि सुई भी चुभाई जाए तो उन्हें पता नहीं चलता। यही वजह से कि जब उनके शरीर को जंगली चूहे खाते हैं तो उन्हें पता ही नहीं चलता।   गांव में नहीं है एक भी डॉक्टर: - ग्रामीणों का आरोप है कि उनके यहां कोई डॉक्टर भी नहीं है, जिनसे वो इलाज करवा सकें। - एक डॉक्टर था तो वो रिटायर हो गया, जिसके बाद कोई भी यहां नहीं आया। - 2009-10 में पहली बार मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आए थे और उन्होंने डॉक्टरों को यहां के मरीजों की समय-समय पर देखभाल और चेकअप के कड़े आदेश दिए। - थोड़े दिन तो डॉक्टरों ने निर्देशानुसार ही काम किया लेकिन बाद में फिर इलाज बंद हो गया। अब इस गांव के सारे लोग डर के साए में रहते हैं।