IS के आतंक से मुक्त लोगों ने यूं मनाया जश्न

नई दिल्ली (11 जून): आईएस के चंगुल से आजाद हुए अलेप्पो के मनबिज गांव में तीन साल बाद कोई जश्न मनाया गया। लोग घरों से बाहर निकले और खूब नाचे गाये। सीरियाई सेना ने आईएस आतंकियों को खदेड़कर इस गांव को आजाद कराया। पूरे गांव ने इस आईएसआईएस से आजादी की खुशी मनाई। महिलाओं ने तो अपने बुर्के ही उतार फेंके।

एक महिला ने कहा कि मैं तो अब लाल कपड़े पहनूंगी। आईएस ने अपने कब्जे वाले इलाकों में महिलाओं के लिए ड्रेस कोड तय कर रखा था। इसके मुताबिक उन्हें किसी भी अजनबी के सामने काले नकाब से अपना सिर ढंक कर रखना होता था। इस नियम को न मानने पर आतंकी कड़ी सजा देते थे, जिनमें रेप से लेकर मौत तक शामिल है। 

1-

2-

3-