महाराष्ट्र: भगवा झंडा फहराने से रोकने पर थानेदार को जमकर पीटा

लातूर (24 फरवरी): महाराष्ट्र के लातूर में भगवा झंडा फहराने से रोकने पर एक थानेदार के साथ बेरहमी से मारपीट की गई। इसके बाद भीड़ ने बुरी तरह जख्मी थानेदार के हाथ में भगवा झंडा थमाकर जुलूस निकाला।

मामला  महाराष्ट्र के लातूर का है, इस इलाके में एक ऐसा चौक है, जिस पर दो समुदाय के लोग अपना हक जताते हैं। पनगांव में कुछ लोग भगवा झंडे के साथ शिवाजी जयंती को लेकर उसी चौराहे से जुलुस निकालना चाहते थे। लेकिन थानेदार युनुस शेख ने विवाद होने के चलते उन्हे ऐसा करने से रोका और फिर इसी मनाही के बाद लोगों की भीड़ ने थाने पर हमला कर दिया।

थाने के अंदर तोड़फोड़ की गई। एक एक सामान को तहस नहस कर दिया गयाष। कुर्सी टेबल से लेकर खिड़की के शीशों तक को तोड़ दिया गया और थानेदार युनुस शेख की जमकर पिटाई की गई।

क्या है मामला 19 तारीख को शिवाजी जयंती के दिन अचानक लोगों की भीड़ जमा हुई। क्या मामला है ये पूछने पर लोगों ने पत्थर फेंकने शुरू कर दिया। कुछ लोगों ने पुलिस चौकी में जमकर तोड़फोड़ की और मुझे बुरी तरह से पीटा।

लोगों की पिटाई से युनुस की हालत नाजुक है। वो अस्पताल में भर्ती हैं। बेरहमी से हुई उनकी पिटाई के बाद युनुष का पूरा परिवार सदमे में हैं और सब उनके जल्द ठीक होने की कामना कर रहे हैं। पुलिस ने इस मामले में कार्रवाई करते हुए  200 लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है, जिसमें से 16 लोग अब तक गिरफ्तार हो चुके हैं।

पुलिसवाले की पिटाई के बाद लातूर में सनसनी फैल गई है। पनगांव में तनाव का माहौल है। किसी तरह की हिंसा को रोकने के लिए पूरे गांव में पुलिसवालों की तैनाती कर दी गई है और मामले से जुड़े आरोपियों की तलाश तेज कर दी गई है।