यहां मरने से पहले ही अपना अंतिम संस्कार कर लेेते हैं लोग...!

नई दिल्ली (31 अक्टूबर):  हाल के वर्षों में दक्षिण कोरिया में अपनी मौत से पहले ही अंतिम संस्कार का चलन बढ़ा है, जिसके पीछे अपने जीवन को सकारात्मक ढंग से देखने की धारणा है।सियोल स्थित ह्योवोन हीलिंग सेंटर एक फ्यूनरल सर्विस कंपनी की वित्तीय मदद से नकली अंतिम संस्कार से संबंधित कार्यक्रम करता है। इसमें पहले एक भाषण होता है, जिसमें प्रतिभागियों को कुछ निर्देश दिए जाते हैं और उन्हें वीडियो दिखाया जाता है। बाद में लोगों को एक ऐसे कमरे में ले जाया जाता है, जहां हल्की रोशनी होती है और जो गुलदाउदी के फूल से सजा होता है। वहां बैठकर लोग अपनी वसीयत लिखते हैं। फिर उन्हें ताबूत में सुला दिया जाता है। काले कपड़े पहना एक आदमी ताबूतों को बंद करता है और प्रतिभागियों को दस मिनट ताबूतों में बिताने पड़ते हैं। 2012 से अब तक करीब पंद्रह हजार लोग इस नकली अंतिम संस्कार का हिस्सा बन चुके हैं। यह कार्यक्रम एकदम नि:शुल्क है। इसमें शामिल होने वाले कुछ लोगों को गंभीर बीमारियां थीं और अपने अंतिम समय के लिए मानसिक रूप से तैयार हो रहे थे, तो कुछ लोगों में आत्महत्या करने की प्रवृत्ति थी।