...तो पीडीपी की नज़र में हिजबुल कमांडर बुरहान आतंकी नहीं धर्मात्मा

नई दिल्ली (9 अगस्त): महबूबा मुफ्ती के विधायक मुश्ताक अहमद ने आतंकी बुरहान वानी को धर्मात्मा बताया है। बता दें कि कश्मीर की सत्ताधारी पार्टी पीपल्स डेमोक्रेटिक फ्रंट के नेता मुश्ताक अहमद ट्राल से विधायक हैं जहां हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर बुरहान का घर है।

इंडियन एक्सप्रेस से बात करते हुए अहमद ने कहा, ‘वह आतंकी नहीं था। लोग उसे इसलिए पंसद करते थे क्योंकि वह महान था और धर्मात्मा के चरित्र वाला था। हमारी पार्टी की उन लोगों से कोई दुश्मनी नहीं है जो बुहरान वानी की मौत पर दुखी हैं। बल्कि हम तो मानते हैं कि बुरहान की मौत से अलगाववादियों को एक नई ताकत मिल गई है।’

अहमद ने पिछली सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि सभी जानते हैं कि नेशनल कॉन्फ्रेंस युवाओं को थाने में जबरन बंद करवा देती थी और उनपर अत्याचार करती थी। उन्होंने आगे कहा कि कश्मीर का मुद्दा बुरहान की मौत से खत्म नहीं हुआ बल्कि यह और सुलग गया। अब हर राजनीतिक पार्टी, हर संस्था कश्मीर के मुद्दे को अपने ढंग से देख रही है।