नहीं मिला बीमार बच्चे को स्ट्रेचर, घरवालों को हाथ में उठाना पड़ा ऑक्सीजन सिलेंडर

पटना (23 मार्च): बिहार में पीएमसीएच के शिशुराेग विभाग में इलाज के लिए आए बच्चे को समुचित व्यवस्था किए बिना आईजीआईसी भेज दिया गया। पीएमसीएच में चिकित्सक ने जांच करने पर परिजनों को बताया कि बच्चे का इलाज इंदिरा गांधी हृदय रोग संस्थान में होगा। इसे वहीं ले जाइए। बच्चे की स्थिति भी गंभीर थी। उसको ऑक्सीजन मास्क भी लगा हुआ था और परिजन ऑक्सीजन सिलेंडर लेकर पीछे-पीछे चल रहे थे। परिजन ऑक्सीजन सिलेंडर लेकर ही आईजीआईसी के लिए रवाना हो गए।

परिजनों का आरोप है कि गंभीर रुप से बीमार बच्चे के लिए स्ट्रेचर और ट्रॉली भी उपलब्ध नहीं कराई गई। ट्रॉली की मांग की गई तो बताया गया कि उपलब्ध नहीं है जबकि पीएमसीएच में मरीज ले जाने के लिए एंबुलेंस और ई-ट्रॉली की व्यवस्था है। 

अधीक्षक डॉ. दीपक टंडन ने बताया कि राष्ट्रपति वेंकैया नायडू के शहर में होने की वजह से वे शाम 7 बजे कर अस्पताल में ही थे किसी ने बच्चे को आईजीआईसी में ले जाने के लिए ई-ट्रॉली या फिर एंबुलेंस की मांग नहीं की और न ही इस बाबत किसी ने शिकायत की है। उन्होंने कहा कि अगर ऐसा कुछ हुआ है तो दोषी पर कड़ी कार्यवाही की जाएगी। अधीक्षक ने डॉ. नीलम वर्मा के नेतृत्व में जांच कमेटी गठित कर दी है।