दिल्ली: RML अस्पताल में डॉक्टर ने मरीज के परिजन को मारा थप्पड़, मचा बवाल

नई दिल्ली (15 सितंबर): दिल्ली में डेंगू और चिकनगुनिया से लोगों की आफत कम होने का नाम नहीं ले रही। सरकारी अस्पतालों में बढ़ती भीड़ की वजह से अब डॉक्टरों और मरीज के परिजनों के बीच टकराव की नौबत आने लगी है। 

बीती रात राम मनोहर लोहिया अस्पताल में जमकर बवाल हुआ। यहां इलाज में देरी को लेकर डॉक्टर और तीमारदार आपस में भिड़ गए। चिकनगुनिया और डेंगू से निबटने के नाकाफी इंतजाम की वजह से लोगों का सब्र जवाब दे रहा है। सरकारी अस्पतालों में इलाज को लेकर चाहे जितने ऊंचे दावे किए जा रहे हों, लेकिन हालात उलट हैं। 

दिल्ली के राममनोहर लोहिया अस्पताल में इमरजेंसी वार्ड के बाहर एक रेजिडेंट डॉक्टर ने मरीज के परिजन को थप्पड़ मार दिया। इसके बाद जमकर बवाल हुआ। दोनों तरफ से हाथापाई हुई। गुस्साए डॉक्टर शाम 7 बजे से रात 2 बजे तक हड़ताल पर रहे। मरीजों को हाथ तक लगाने से मना कर दिया। 

बाद में डॉक्टरों का गुस्सा ठंडा पड़ा और वे ड्यूटी पर वापस लौट आए। डेंगू और चिकनगुनिया के मरीजों की तेजी से बढ़ती तादाद की वजह से सरकारी अस्पतालों में ऐसी तनातनी के हालात लगातार बन रहे हैं। यहां ना बेड पूरे पड़ रहे हैं और ना लोगों को समय पर सही इलाज मिल रहा है। 

दिल्ली में डेंगू से अब तक 14 लोगों की मौत हो चुकी है। तो चिकनगुनिया से 6 लोग दम तोड़ चुके हैं। दूसरी तरफ राज्य और केंद्र सरकार का दावा है कि वो हरसंभव कदम उठाने में पीछे नहीं। दावे अपनी जगह हैं। लेकिन सरकारी अस्पतालों के मौजूदा हालात निराश करनेवाले हैं।