पठानकोट हमला: एनआईए ने किया यह बड़ा खुलासा

नई दिल्‍ली (3 फरवरी): पठानकोट में एयरफोर्स एयरबेस पर हुए आतंकी हमले को लेकर एनआईए ने बड़ा खुलासा करते हुए कहा है कि अटैक में एयरपोर्ट के अंदर के ही शख्स का हाथ है। जांच एजेंसी के मुताबिक 10 फीट की एयरबेस बाउंड्री पर लगा तार अंदर से काटा गया हो सकता है, बाहर से नहीं। जांच एजेंसियों को जिस हालत में तार मिला था, उससे यही अंदाजा लगाया जा रहा है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार तार के काटे जाने के तरीके से यह शक पुख्ता हो गया है कि यह काम आतंकियों के बजाय किसी अंदर के आदमी ने किया है। सबसे बड़ी खास बात यह है कि जहां तार काटे गए हैं वहां लाइट्स भी काम नहीं कर रही है। एनआईए अभी फोरेंसिक रिपोर्ट का इंतजार कर रही है। इसके अतिरिक्त आतंकी जहां से एयरबेस में दाखिल हुए थे, उसके दूसरी तरफ ही फायरिंग रेंज थी।

सूत्रों के अनुसार यहां मौजूद ऊंची दीवार छिपने के हिसाब से बिल्कुल उपयुक्त है और यहां फायरिंग के दौरान गोलियों से भी बचा जा सकता है। एजेंसी के सूत्रों के अनुसार इस जगह पर पेट्रोलिंग न होना भी सवाल खड़े करता है। इस इलाके में फैमिली क्वार्टर तथा विशेष महत्वपूर्ण एयर एसेट्स है जो बहुत ही संवेदनशील क्षेत्र माने जाते हैं।

एनआईए के सामने सबसे बड़ी चुनौती यही है कि वह हमले में शामिल अंदर के आदमी की पहचान करें। इसके लिए एयरबेस से किए गए फोन कॉल्स के डिटेल खंगाले जा रहे हैं। एयरबेस के बाहरी घेरे में नजर रखने वाली सिक्यूरिटी से भी पूछताछ की जा रही है। साथ ही साथ वहां रहे लोगों से भी हमले के दिन या उससे पहले हुई संदिग्ध गतिविधियों की जानकारी ली जा रही है।