Pathankot: आतंकी हमले से पहले जारी किया गया था हाई अलर्ट

पठानकोट(2 जनवरी): पंजाब के पठानकोट में शनिवार को आतंकी हमले से पहले ही एक दिन में दो घटनाओं के बाद हाई अलर्ट जारी कर दिया गया था। सुबह में कुछ बंदूकधारियों ने एसपी की गाड़ी पर धावा बोला था और किडनैप करने की कोशिश की थी। वहीं शाम में उसी इलाके में एक युवक की हत्या भी हई थी।

सुनसान इलाके में PB02BW0313 नंबर की गुरदासपुर के एसपी की गाड़ी, जिसे पंजाब पुलिस ने ताजपुर की गांव से बरामद किया है। बताया जाता है कि गुरदासपुर के एसपी सलविंदर सिंह जब अपने दो और साथियों के साथ सुबह चार बजे पठानकोट से गुरदासपुर जा रहे थे तो रास्ते में पुलिस की वर्दी पहने चार से पांच लोगों ने उन्हे किडनैप कर लिया और फिर मारपीट की।

कुछ देर चली इस मारपीट के बाद बदमाशों ने एसपी और उनके दोस्तों को गाड़ी से नीचे धकेल दिया और फिर गाड़ी लेकर फरार हो गए। इस घटना में एसपी के एक साथी घायल भी हो गए। एसपी और साथियों को किडनैप करने आए ये बदमाश पुलिस वर्दी में थे। उनके पास एके 47 बंदूके थी। लेकिन बदमाश अपने इस मंसूबे में पूरी तरह से कामयाब नहीं सके। क्योंकि इस घटना के बाद से पूरे इलाके में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया था।

बॉर्डर को सील कर पूरे बदमाशों को पकड़ने के लिए चप्पे चप्पे पर पुलिस के जवान तैनात कर दिए थे। लिहाजा कुछ घंटे बाद गाड़ी लेकर भागे बदमाशों ने ताजपुर के गांव में गाड़ी छोड़ दी और फिर फरार हो गए। बताया जाता है कि कथलौर गांव का ये युवक अपनी गाड़ी से कही जा रहा था तभी अज्ञात बदमाशों ने उसकी हत्या कर दी और फिर उसकी गाड़ी छीन ली। हालांकि घटना के बाद बदमाशों ने युवक की भी गाड़ी कुछ दूर लेजाकर झाडियों में छोड़ दी।

पंजाब के पठानकोट में एक दिन में दो बड़ी वारदात ने पूरे पुलिस महकमे के होश उड़ा दिए हैं। पुलिस को शक है कि जिन अपराधियों ने एसपी को किडनैप करने की कोशिश की उन्होने ने इस युवक की हत्या की है। दोनों ही वारदात के बाद अपराधी फरार हैं। पुलिस की वर्दी में आए बदमाशों को पकड़ने के लिए पूरे प्रदेश में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है।