धन्नासेठों की सूची में आचार्य बालकृष्ण, अंबानी पहले पायदान पर

नई दिल्ली (26 सितंबर):  पतंजलि के सीईओ और बाबा रामदेव के सहयोगी आचार्य बालकृष्ण अब देश के दस शीर्ष धन्नासेठों की सूची में शामिल हो गये हैं। उनके अलावा  डी-मार्ट के राधाकिशन दमनी का नाम भारत के शीर्ष अमीरों में शामिल हो गया है। उद्योगपति मुकेश अंबानी अब भी सबसे अमीर भारतीय बने हुए हैं। पिछले छह साल से अमीरों की सूची तैयार कर रही शोध इकाई हुरन ने बताया एफएमसीजी कंपनी पतंजलि के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) बालकृष्ण अब देश के शीर्ष 10 अमीरों में शामिल हो गए हैं। 

रिटेल सेक्टर के नये सितारे दमनी सबसे लंबी छलांग लगाने वाले अमीर रहे। उनकी संपत्ति में 320 प्रतिशत का इजाफा हुआ। एवेन्यू सुपरमार्ट्स की शानदार सूचीबद्धता से अमीरों की सूची में आठ नये लोगों को जगह मिली। बालकृष्ण पिछले साल 25वें स्थान पर थे जबकि इस बार वह आठवें स्थान पर पहुंच गये हैं। उनकी संपत्ति 173 प्रतिशत बढ़कर 70 हजार करोड़ रुपये हो गई है। 

पिछले वित्त वर्ष में पतंजलि का कारोबार 10,561 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। वह कई विदेशी ब्रैंड्स को टक्कर दे रही है। मुकेश अंबानी सबसे अमीर भारतीय बने रहे। वैश्विक स्तर पर वह पहली बार शीर्ष 15 में जगह बनाने में कामयाब रहे। शेयर बाजार में आये उछाल से रिलायंस के शेयर बढ़ गए। इससे अंबानी की संपत्ति 58 प्रतिशत बढ़कर 2570 अरब रुपये पर पहुंच गई है। उनकी यह संपत्ति यमन देश की सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) से 50 प्रतिशत अधिक है।