इस दिन पड़ेगा सूर्यग्रहण, 44 साल में पहली बार होगा ऐसा

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (12 जुलाई): 13 जुलाई को आंशिक सूर्यग्रहण लगने जा रहा है। हालांकि, इस ग्रहण को ज्यादा लोग नहीं देख पाएंगे लेकिन यह ग्रहण कुछ मायनों में दूसरे सूर्यग्रहण से अलग है। दरअसल, यह सूर्यग्रहण 13 जुलाई को लगेगा और इस दिन शुक्रवार है। इस 13 तारीख और शुक्रवार के मेल को लोकप्रिय संस्कृति में 'बुरी किस्मत' का सूचक माना जाता है। इस दिन और तारीख को 44 साल पहले ग्रहण लगा था। 13 दिसंबर 1974 के बाद से अब तक कोई भी सूर्यग्रहण ऐसा नहीं रहा। अब शुक्रवार और 13 तारीख के मेल वाला यह सूर्यग्रहण 13 सितंबर 2080 में लगेगा।

यह सूर्यग्रहण भारत में नहीं दिख रहा है। यह सूर्यग्रहण आस्ट्रेलिया के सुदूर दक्षिणी भागों, तस्मानिया, न्यू जीलैंड के स्टीवर्ट आइलैंड, अंटार्कटिका के उत्तरी हिस्से, प्रशांत और हिंद महासागर में देखा जा सकेगा। ग्रहण सुबह 7 बजकर 18 मिनट पर शुरू होगा और 2 घंटे 25 मिनट तक रहेगा।

बता दें कि विज्ञान के मुताबिक सूर्य ग्रहण एक खगोलीय घटना है। जिनमें सूर्य, चंद्रमा और पृथ्वी तीनों एक ही सीधी रेखा में आ जाते हैं। इससे चांद सूर्य की उपछाया से होकर गुजरता है, जिस वजह से उसकी रोशनी फिकी पड़ जाती है। जब भी चांद चक्कर काटते हुए सूरज और पृथ्वी के बीच आता है तो पृथ्वी पर सूर्य आंशिक या पूरी तरह से दिखना बंद हो जाता है। इसी को सूर्यग्रहण कहा जाता है।