उत्तराखंड मामले पर राज्यसभा में हंगामा, नहीं हो सका शून्यकाल और प्रश्नकाल

नई दिल्ली (26 अप्रैल): मंगलवार को संसद में सेशन की शुरुआत सूखे पर हंगामे के साथ हुई। विपक्ष के हांगामे के बाद सदन को 2 बजे तक स्थगित कर दिया गया है। इससे पहले उत्तराखंड मामले पर राज्यसभा में आज भी हंगामा हुआ। हंगामा करते हुए विपक्ष ने पीएम के खिलाफ भी नारेबाजी की। हंगामे के कारण लोकसभा में शून्यकाल और प्रश्नकाल नहीं हो सका। विपक्ष के जमकर हंगामे के बाद उप सभापति के राज्यसभा को 12 बजे तक स्थगित कर दिया था। 

इससे पहले उत्तराखंड का मुद्दा उठाते हुए कांग्रेसी नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने लोकतंत्र का हत्यारा बताया। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार गैरभाजपाई सरकारों को गिराने की साजिश रच रही है। वहीं राजस्थान से बीजेपी सांसद सोनाराम ने अपने प्रदेश के 19 जिलों में सुखे की बात कही। कांग्रेस के आनंद शर्मा ने कहा, ‘सरकार ने अरुणाचल में चुनी सरकार को अस्थिर किया। अब उत्तराखंड सरकार को बर्खास्त कर राष्ट्रपति शासन लगाया गया है।’ कांग्रेस सदस्य “मोदी तेरी तानाशाही नहीं चलेगी’, “मोदी सरकार होश में आओ’ के नारे लगाते रहे। इधर, उत्तराखंड मामले पर गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि केंद्र सरकार मामले पर चर्चा के लिए तैयार है। इसी बीच नए राज्यसभा मेंबर्स ने भी शपथ ली। बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी और मैरीकॉम जैसी हस्तियां नए मेंबर बने।