संसद के मानसून सत्र का आज आखिरी दिन बन सकता है ऐतिहासिक

नई दिल्ली(8 अगस्त): जीएसटी संविधान संशोधन विधेयक को आज लोकसभा में पेश किया जाएगा। राज्यसभा में ये बिना किसी विरोध के 3 अगस्त को ही पारित हो चुका है।

- बीजेपी और कांग्रेस ने अपने सांसदों को ह्विप जारी कर आज लोकसभा में मौजूद रहने को कहा है।

- संसद के मानसून सत्र का आज का दिन ऐतिहासिक बनने जा रहा है।

- जब जीएसटी संविधान संशोधन विधेयक को लोकसभा में पेश किया जाएगा।

- राज्यसभा ने इस बिल को संशोधनों के साथ पारित किया था, इसलिए इसे फिर से लोकसभा में पास कराना जरूरी है।

- जीएसटी बिल पर बहस के दौरान लोकसभा में पीएम भी मौजूद रह सकते हैं..वे इस पर चर्चा का जवाब भी दे सकते हैं।

- 3 अगस्त को राज्यसभा में बिल पारित होने के दौरान सदन में पीएम मौजूद नहीं थे। इसको लेकर विरोधियों ने उन पर सवाल खड़े किए थे।

- लोकसभा से पारित होने के बाद इस 122 वें संविधान संशोधन विधेयक को राष्ट्रपति की मंजूरी के लिए भेजा जाएगा।

- इसके बाद 30 दिनों के भीतर राज्यों को इस पर अपनी सहमति देनी होगी।

- संविधान संशोधन विधेयक होने के कारण इसे लागू करने के लिए कम से कम 50 फीसदी यानी राज्यों यानी कुल 15 राज्यों को अपनी सहमति देनी होगी।

- देश के 29 राज्यों में से 13 में भाजपा और उसके सहयोगियों की सरकार है...तो वहीं बिहार और पश्चिम बंगाल जैसे गैर एनडीए शासित राज्यों की सरकारों ने भी इसके समर्थन का ऐलान किया है।

- इसलिए जीएसटी बिल की राह मुश्किल नहीं लगती।