अरुंधति रॉय को लेकर दिए बयान पर ये बोले परेश रावल

नई दिल्ली ( 3 जून ): बॉलीवुड अभिनेता परेश रावल ने प्रसिद्ध लेखिका अरुंधती राय को लेकर एक बार फिर बयान दिया है। वह अरुंधित के खिलाफ अपने ट्वीट को लेकर पिछले दिनों चर्चा में थे। परेश रावल ने कहा है कि उन्हें लेखिका अरुंधती रॉय के खिलाफ किए गए अपने ट्वीट को लेकर किसी तरह का पछतावा नहीं है, क्योंकि लेखिका उस भारतीय सेना के बारे में गलत बातें कह रही हैं जो उन पर कभी पलटवार नहीं करेगी।

परेश रावल ने पिछले दिनों एक ट्वीट किया, जो कश्मीर में आर्मी जीप से एक युवक को बांधकर घुमाने वाले मामले से जुड़ा था। परेश ने कश्मीर में उस घटना के संदर्भ में यह बात कही थी, जहां सुरक्षाबलों ने पथराव करने वालों के खिलाफ कवच के रुप में एक प्रदर्शनकारी का इस्तेमाल किया था। उन्होंने अपने इस ट्वीट में लिखा था कि पत्थरबाज को जीप से बांधने से बेहतर है कि अरुंधती राय को बांधो। इसके बाद उनके इस ट्वीट को हिंसात्मक बताते हुए लोगों ने उनकी काफी आलोचना की थी।

67 वर्षीय ऐक्टर ने यह ट्वीट तब किया था जब पाकिस्तानी मीडिया के मुताबिक राय ने कश्मीर में भारतीय सेना की कार्रवाई की आलोचना की थी। बाद में पाकिस्तानी मीडिया की यह खबर फर्जी साबित हुई थी। बहरहाल, रावल ने कहा कि अगर राय पर खबर फर्जी थी तो भी उन्हें कोई खेद नहीं है। उन्होंने कहा कि अगर उन्हें सेना की जीप से बांधा जाता तो पथराव करने वाला कोई भी व्यक्ति उन पर हमला नहीं करता क्योंकि वह उनकी विचारधारा का समर्थन करती हैं।

अब परेश रावल ने कहा है कि 'तुम उनके बारे में (आर्मी) बात करती हो जो कि तुम्हारे बयान पर उल्टा जवाब नहीं देते। अगर हिम्मत है, तो ममता बनर्जी के बारे में कुछ बोलकर दिखाओ। यदि वह सही हैं, तो मैं भी सही हूं। यदि उन्हें अपने बयान पर पछतावा है तो मुझे भी है।

माना कि यह खबर गलत है, लेकिन उन कॉमेंट का क्या जो उन्होंने साल 2002 में हुए गोधरा कांड पर दिया? यदि आपके पास आभिव्यक्ति की स्वतंत्रता है तो मेरे पास भी है।'