मां के सामने बेटी बनी पैंथर की शिकार, दबी रह गई 'ममता' की चीख

उदयपुर (7 जनवरी): उदयपुर के कुंभलगढ में दिल दहलाने वाली घटना सामने आई है। यहां मां के सामने से पैंथर ने बेटी का जबड़ा पकड़कर दबोच लिया। इसके बाद मां ने बचाने के लिए पीछे दौड़ी, पत्थर मारे लेकिन फिर भी वो अपनी बेटी को बचा न सकी।  

दरअसल बुधवार को 14 साल की बेटी अपनी मां के साथ चारा काट रही थी। तभी वहां पैंथर आया और बेटी को अपने जबड़े में दबोच ले गया। आंखों के सामने अपनी बेटी को पैंथर के जबड़े देख महिला के मुंह से चीख निकल पड़ी। यह सुनकर आसपास के लोग वहां आए। घटनाक्रम सुनते ही खोजने के लिए निकल गए। तीन घंटे तक जंगल में तलाश करने के बाद उन्हें 500 फीट गहरी खाई में बेटी संगीता का शव मिला।

नुकीले दांतों से कुछ ही पलों में थम गई सांसें पैंथर के नुकीले दांत और जबड़े की जकड़न से संगीता की सांसें कुछ ही पलों में थम गई थी। पैंथर उसे गर्दन से पकड़कर जंगल में इधर-उधर घसीटता रहा। बाद में गहरी खाई में शव डालकर चला गया। संगीता के मुंह, गर्दन पर दांतों और नाखून के निशान मिले हैं। शव को देख कर ग्रामीण भी सहम गए। किशोरी लहूलुहान हालत में मिली।

यह पहली बार नहीं है जब इस इलाके में कोई बच्ची पैंथर का शिकार हुई है। इससे पहले भी कई बच्चे ऐसे हादसों की भेंट चढ़ चुके हैं। इसके बावजूद प्रसाशन खामोश है।