पंचायत का तुगलकी फरमान, 18 साल से कम उम्र की लड़कियों ने मोबाइल फोन इस्तेमाल किया तो...

नई दिल्ली (5 जुलाई): उत्तर प्रदेश की एक पंचायत ने फरमान जारी किया है कि 18 साल से कम उम्र की लड़कियां मोबाइल फोन इस्तेमाल नहीं करेंगी। जो परिवार या लडकी इस फरमान को नहीं मानेगी उसे पंचायत सजा सुनायेगी। सजा क्या होगी,कितनी होगी इसका फैसला मुकदमा पंचायत के सामने आने पर होगा। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक ये पंचायत उत्तर प्रदेश के एटा में बैठी थी।जिसमें लोध राजपूत बिरादरी के लगभग चार हजार लोग शामिल हुए।

बीती 30 जून को लोध बिरादरी की एक अवस्क लड़की की आपत्तिजनक क्लिप व्हाट्स एप पर सार्वजनिक किये जाने के बाद यह पंचायत बुलायी गयी थी। पंचायत में कहा गया कि लड़कियां मोबाइल फोन के माध्यम से कुण्ठित लोगों के संपर्क में आ जाती हैं, फिर उनके चंगुल में फंस जाती हैं। इसलिए न उनके पास मोबाइल होगा न वो उनके चंगुल में फंसेंगी। दरअसल, क्षेत्र के श्रीकृष्णा हायर सीनियर सेकेंडरी स्कूल के डायरेक्टर जितेंद्र सिंह यादव ने एक छात्रा को शारीरिक संबंध बनाने के लिए मजबूर किया। जब छात्रा ने मना किया तो उसकी क्लिप व्हाट्स एप पर सार्वजनिक कर दी थी। पुलिस ने जितेंद्र सिंह को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।