VIDEO: पाकिस्तानी चैनल ने हिंदुओं को सरेआम दी गाली, पाक मीडिया ने की आलोचना

लाहौर (18 अप्रैल): पाकिस्तान में हिंदुओं की हालत किसी से छिपी नहीं है, हिंदुओं को किस तरह से पाकिस्तान में अपमान का घूंट पीना पड़ता है। इसकी एक मिसाल देखने को मिली है। पाकिस्तान के एक टीवी चैनल पर हिंदुओं के खिलाफ अभद्र और आपत्तिजनक भाषा का इस्तेमाल हुआ है। जिस वक्त टीवी चैनल पर हिंदुओं को लेकर ऐसे बयान दिए जा रहे थे तब स्टूडियो में मौजूद दर्शक भी हंस रहे थे। 

पाकिस्तानी टीवी चैनल के हास्य प्रोग्राम में हिंदुओं को गाली देने पर पाक मीडिया ने आवाज उठाई है। पाकिस्तानी अखबार द नेशन ने चैनल की कड़ी आलोचना की है। द नेशन ने ये सवाल उठाए हैं कि आखिर टीवी चैनल को ऐसे कार्यक्रम प्रसारित करने की अनुमति कैसे मिली। आम आदमी के लिए आयोजित इस कार्यक्रम को अखबार ने दुर्भाग्यपूर्ण बताया है।

अब जरा पाकिस्तान में हिंदुओं की हालात पर एक नजर डालिए। बंटवारे के वक्त पाकिस्तान में 15 प्रतिशत हिंदू रहते थे। 1998 की जनगणना के अनुसार अब सिर्फ 1.6 प्रतिशत हिंदुओं की आबादी पाकिस्तान में रहती है। हिंदुओं के देश छोड़ने की एक बड़ी वजह असुरक्षा है। ह्यूमन राइट्स लॉ नेटवर्क की एक रिपोर्ट के मुताबिक वर्ष 1965 से लेकर अब तक तकरीबन सवा लाख पाकिस्तानी हिन्दुओं ने भारत की तरफ पलायन किया है। 

मानवाधिकार संगठनों के अनुसार पिछले पचास वर्षों में पाकिस्तान में बसे नब्बे प्रतिशत हिंदू देश छोड़ चुके हैं और अब उनके पूजा स्थल और प्राचीन मंदिर भी तेज़ी से ग़ायब हो रहे हैं। पाकिस्तान हिंदू काउंसिल के मुताबिक़, इस समय देश भर में सभी धार्मिक अल्पसंख्यकों के ऐसे 1,400 से अधिक पवित्र स्थान हैं जिन तक उनकी पहुंच नहीं है। फिर उन्हें समाप्त कर वहां दुकानें, खाद्य गोदाम, पशु बाड़ों में बदला जा रहा है। पाकिस्तान में जनगणना के आंकड़ों के हिसाब से हिंदूओं की संख्या लगभग 30 लाख और पाकिस्तान हिंदू परिषद के अनुसार 70 लाख है। पाकिस्तान में बसे हिन्दुओं में से लगभग 96 फीसदी सिंध प्रान्त में ही रहते हैं।

[embed]https://www.youtube.com/watch?v=4ZelcaTVGPQ[/embed]