भारत ने किया इन हथियारों का इस्तेमाल तो मिनटों में बर्बाद हो जाएगा पाकिस्तान


दयाकृष्‍ण, नई दिल्ली (23 मई): भारतीय सेना ने नौशेरा सेक्टर में पाकिस्तान के बंकर को तबाह करके उसे एक बार फिर सुधरने की चेतावनी दी है। हालांकि यह पहला मौका नहीं है जब भारत ने ऐसा किया हो, लेकिन पाकिस्तान इतना बेशर्म है कि वह सुधरने का नाम ही नहीं लेता। 


पाकिस्तान ने हर बार की तरह इस बार भी किसी हमले को नकार दिया है। लेकिन भारतीय सेना ने साफ कर दिया है कि अगर वह बाज नहीं आया तो आगे भी ऐसी कार्रवाई होती रहेगी। भारत ने पाकिस्तान की चौकी को बर्बाद करने के लिए एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल का प्रयोग किया, लेकिन आपको बता दें कि भारत के पास भी ऐसे हथियार हैं अगर वह उसका प्रयोग पाकिस्तान के खिलाफ कर देगा तो दुनिया के नक्शे से उसका नामो-निशान मिट जाएगा।


भारत के ये से ह‌थियार पाकिस्तान पर पड़ सकते हैं भारी...



1: आईएनएस विक्रमादित्य एयरक्राफ्ट कैरियर भारतीय नेवी में नवंबर, 2013 में शामिल किया गया था। ये युद्घपोत 282 मीटर लंबा है और 24 MiG-29K विमानों का बेड़ा खड़ा किया जा सकता है। ये सबमरीन और जहाजों को मार गिराने में सक्षम है। युद्घ के हालात में यदि ये युद्घपोत पाकिस्तान नेवी को नेस्तनाबूद करने के लिए काफी है।



2: आईएनएस चक्र न्यूक्लियर अटैक सबमरीन परमाणु हमला करने में सक्षम है। ये पनडुब्बियां समुद में‌ छिपकर बारूदी सुरंगे बिछा सकती हैं और समु्द्र के भीतर निगरानी भी कर सकती हैं। आईएनएस चक्र बहुत ही आधुनिक पनडुब्‍बी है, जबकि पाकिस्तान की पनडुब्बियां इतनी सक्षम नहीं हैं। इनकी अधिकतम गति 30 नॉट है, जबकि समुद्र के भीतर ये 520 मीटर की गहराई तक मार कर सकती हैं।



3: भारतीय वायुसेना के सुखोई Su-30MKI लड़ाकू विमान पाकिस्तान वायुसेना को नाकों चने चबवा सकते हैं। ये विमान दूर तक मार करने में सक्षम हैं, दो इंजन और रडार इसे और अधिक ताकतवर बनते हैं। सुखोई विमान ब्रह्मोस मिसाइलें ले जाने में भी सक्षम है।



4: ब्रह्मोस मिसाइल ने भारतीय सेना की ताकत कई गुना बढ़ा दी है। ये मिसाइल पनडुब्बी, जहाज, लड़ाकू विमान और जमीन यानी जल, थल और हवा कहीं से भी लांच की जा सकती है। ये दुनिया की सबसे तेज क्रूज मिसाइल मानी जाती है। ब्रह्मोस को तोड़ पाकिस्तान के पास नहीं है।


भारत पाकिस्तानभारतीय वायुसेना के पास 2000 लड़ाकू विमान हैं।पाकिस्तान के पास सिर्फ 900 लड़ाकू विमान हैं।भारत में जवानों की संख्‍या 13,25,000 रिजर्व और पैरामिलिट्री फोर्स के साथ 48,68,407भारत में जवानों की संख्‍या 6,17,000 रिजर्व और पैरामिलिट्री फोर्स के साथ 14,34,000भारतीय सेना के टैंक: टी-72 युद्ध टैंक 2414, टी-90 टैंक 807, अर्जुन एमके-2 टैंक 248, टी-55 टैंक 550पाकिस्तान सेना के टैंक: 500 मुख्य टैंक अल खालिद, 320 टी-80 टैंक, 1300 अल जरार 85-2 और 69-2 टैंक, 50 जमीन और पानी दोनों पर चलने वाले टैंकभारतीय वायु सेना: दुनिया की चौथी सबसे बड़ी वायु सेना, वायु सेना में सैन्य अधिकारी और कर्मचारी- 127,000, सेवा में सक्रिय एयरक्राफ्ट-1785, एयरबेस-60पाकिस्तान वायु सेना: वायु सेना में सैन्य अधिकारी और कर्मचारी- 65,000, सेवा में सक्रिय एयरक्राफ्ट-847, एयरबेस-9भारतीय सेना के एयरक्राफ्ट: हमारे लड़ाकू विमानों में सबसे खतरनाक है 4.5 जेनरेशन विमान सुखोई। यह भारत ने रुस से खरीदा है। भारत के पास 200 सुखोई विमान है। इकले अलावा 36 मिराज, 90 जगुआर, 48 मिश-29 और 56 मिग-27 बाईसन फायटर एयरक्राफ्ट भी हैं।पाकिस्तान सेना के एयरक्राफ्ट: 120 चेंगदू एफ-7पी, 60 एफ-7 पीजी फाइटर, 150 मिराज फाइटरर्स, 30 जेएफ-17 थंडर फाइटर, 54 एफ-16 अमेरिकी लड़ाकू फाल्कनभारत के पास 14 पनडुब्बी हैं। इनमें से अरहिंत भारत की पहली स्वदेशी पनडुब्बी, जो हाल में कमीशन की गई है।पाकिस्तान के पास केवल 5 पनडुब्बी है।