Blog single photo

10 साल बाद पाकिस्तान लौटेगा इमरान, भोपाल जेल में था बंद

भले ही पाकिस्तान भारत के खिलाफ साजिश रचता हो और सरहद पार के नापाक हरकत करता हो, लेकिन भारत की कोशिश हर वक्त ये रहती की पाकिस्तान अपनी नापाक हरकत से बाज आए

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (26 दिसंबर): भले ही पाकिस्तान भारत के खिलाफ साजिश रचता हो और सरहद पार के नापाक हरकत करता हो, लेकिन भारत की कोशिश हर वक्त ये रहती की पाकिस्तान अपनी नापाक हरकत से बाज आए। हिंदुस्तान हमेशा पाकिस्तान को इंसानियत की पाठ पढ़ाने की कोशिश करता है। इसी कड़ी में भारत ने आज  पिछले 10 साल हिंदुस्तान की जेल में बंद एक पाकिस्तानी नागरिक को रिहा करने जा रहा है। फर्जी पासपोर्ट के मामले में पिछले 10 साल से भारतीय जेल में बंद मोहम्मद इमरान कुरैशी वारसी आज वाघा बॉर्डर के रास्ते अपने मुल्क वापस लौटेंगा।

कुरैशी पर फर्जी दस्तावेज बनाने और जासूसी करने के आरोप थे। सजा पूरी होने के बाद आज वह अटारी-वाघा बॉर्डर से वापस अपने देश पाकिस्तान लौट जाएगा। वारसी ने रिहा होने की खबर मिलने के बाद मीडिया को बताया कि पुलिस ने उसके साथ अच्छा व्यवहार किया, वह उसके साथ परिवार जैसा व्यवहार करते थे। वारसी ने कहा कि मुझे यहां बहुत प्यारे लोग मिले। बिलकुल वैसे जैसे पाकिस्तान में होते हैं। मुझे भरोसा है कि अच्छे लोग हर जगह होते हैं।

आपको बता दें कि अभी कुछ दिन पहले ही भारत के नागरिक हामिद अंसारी पाकिस्तान में 6 साल की सजा पूरी कर वापस हिंदुस्तान लौटे हैं। इसी फैसले के तुरंत बाद भारत ने इमरान कुरैशी को वापस पाकिस्तान भेजने का फैसला किया। बताया जाता है कि इमरान भी हामिद की तरह अपने प्यार की खातिर भारत आया था। बस उसकी लव स्टोरी में इतना अंतर है कि उसकी शादी उस लड़की से हो गई थी जिसके लिए उसने बॉर्डर पार किया था।इमरान का कहना है कि वो भारत में ही रहना चाहता हैं क्योंकि वो प्यार के लिए 2003 में भारत आए था। इमरान का कहना है कि उसने अपनी एक भारतीय कजिन से ही शादी की है और उनके दो बच्चे भी हैं। इसके साथ ही इमरान का दावा है कि विभाजन के दौरान उसके पिता पाकिस्तान चले गए थे जबकि उनके कुछ रिश्तेदार भारत में ही रह गए। चार साल से अधिक कोलकाता में रहने के बाद मैं 2008 (इमरान) में भोपाल आया क्योंकि मैंने सुना था कि यहां आसानी से पासपोर्ट बनवा सकते हैं। इसके साथ ही इमरान कहते हैं कि मैंने अपने पूर्वजों की संपत्ति का एक हिस्सा भी मांगा था जिस वजह से मेरे यहां के रिश्तेदारों ने पुलिस को ये बता दिया कि मैं एक पाकिस्तानी जासूस हूं। जिसके बाद 2008 में उसे गिरफ्तार कर लिया गया। कुरैशी का कहना है कि उसे अब ये भी नहीं पता कि उसके बीवी-बच्चे कहां हैं। इमरान का कहना है कि पाकिस्तान से जब वो भारत आया था तब उसकी उम्र 26 साल थी अभी 40 हो गई है।

NEXT STORY
Top