100 बच्चों का लक्ष्य पूरा करने के लिए इस शख्स को अब चौथी बीवी की तलाश

क्वेटा (3 जून) :  कुछ दिन पहले पाकिस्तान के क्वेटा के रहने वाले और 35 बच्चों के पिता सरदार जान मुहम्मद खिलजी की कहानी सामने आई थी तो सभी हैरान हुए थे। 46 साल के खिलजी का कहना है कि उन्हें 100 बच्चों का लक्ष्य पूरा करना है इसलिए उन्हें एक और बीवी की तलाश है। बता दें कि खिलजी की पहले से ही तीन बीवियां हैं।

खिलजी इसे अपना धार्मिक कर्तव्य मानते है कि वे जितना हो सके अधिक से अधिक बच्चे पैदा करें। बलूचिस्तान प्रांत के क्वेटा में पांच बेडरूम वाले मिट्टी के घर में खिलजी अपनी तीन बीवियों और 35 बच्चों के साथ रहते हैं।

बात यहीं नहीं खत्म हो जाती जान के बड़ा बेटा 13 साल का मुहम्मद ईसा भी अपने पिता के नक्शे कदम पर चलना चाहता है। मुहम्मद ईसा अपने पिता से आगे जाकर 100 से भी ज्यादा बच्चे चाहता है। मेडिकल तकनीशियन होने का दावा करने वाले खिलजी एक छोटी सी क्लीनिक चलाते है जहां वह लोगों की मामूली बीमारियों का इलाज करते हैं। इससे होने वाली आमदनी से खिलजी को अब घर का खर्च चुकाना मुश्किल हो रहा है।

खिलजी ने माना कि बढ़ते बच्चों के साथ उनकी जरुरतें बढ़ती जा रहीं हैं इसीलिए उन्होंने सरकार से अपने परिवार के भोजन, शिक्षा और स्वास्थय के लिए मदद मांगी की है जिसके माने जाने की संभावना कम ही है। लेकिन खिलजी को अल्लाह पर पूरा भरोसा है कि सरकार भले ही ना सुने लेकिन अल्लाह जरूर सुनेगा। खिलजी का कहना है कि वे शायद ही कभी अपने बच्चों के नाम भूलते हैं। शादी जैसे मौकों पर वे बारी बारी से बच्चों को उनकी मां के साथ ले जाते हैं। उनकी तीनों बीवियां उनके इस लक्ष्य में सहयोग कर रहीं हैं और मिलजुल कर रहतीं हैं। हालाकि खिलजी अपनी बीवियों से बात करने की इजाजत नहीं देते।

गौरतलब है कि पाकिस्तान की एशिया में सबसे ज्यादा जन्म दर है। विश्व बैंक और सरकारी आंकड़ों के मुताबिक पाकिस्तान में प्रति महिला तीन बच्चे हैं।