Blog single photo

देखें ! मोदी का घातक प्लान, पहले कंगाल फिर टुकड़े-टुकड़े हो जायेगा पाकिस्तान

पुलवामा हमले के बाद भारत पाकिस्तान पर एक के बाद एक कूटनीतिक और आर्थिक दबाव बढ़ाता जा रहा है। एक तरफ पाकिस्तान से आयातित वस्तुओँ पर 200 प्रतिशत कस्टम शुल्क कर दिया है तो दूसरी ओर आईएमएफ के बेल आउट पैकेज को रोकने के लिए एफएटीएफ (फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स) के समक्ष पाकिस्तान के खिलाफ डोजियर पेश करने जा रहा है।

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली(16 फरवरी): पुलवामा हमले के बाद भारत पाकिस्तान पर एक के बाद एक कूटनीतिक और आर्थिक दबाव बढ़ाता जा रहा है। एक तरफ पाकिस्तान से आयातित वस्तुओँ पर 200 प्रतिशत कस्टम शुल्क कर दिया है तो दूसरी ओर आईएमएफ के बेल आउट पैकेज को रोकने के लिए एफएटीएफ (फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स) के समक्ष पाकिस्तान के खिलाफ डोजियर पेश करने जा रहा है। इस डोजियर में पाकिस्तान सरकार और आतंकी संगठनों के आर्थिक मदद का ब्योरा होगा। फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स वैश्विक स्तर पर आतंकी फंडिंग की निगरानी करती है।

 ऐसी संभावनाएं बन रही हैं कि एफएटीएफ के सामने भारत का नया डोजियर आने से आईएमएफ पाकिस्तान को प्रस्तावित 13वें बेल आउट पैकेज रोक दिया जायेगा। यदि ऐसा ही होता है तो पाकिस्तान कंगाल घोषित हो जायेगा। क्यों कि पाकिस्तान के पास विदेशी कर्ज के साथ ही घरेलू खर्चों के लिए भी पर्याप्त पैसा नहीं है। हालांकि इमरान खान सऊदी अरब और संयुक्त अरब अमीरात की मध्यस्थता से आईएमएफ को बेल आउट पैकेजके लिए राजी कर लिया था लेकिन अब यह पैकेज खटाई में पड़ गया है। विश्व के जाने-माने आर्थिक-सामरिक विशेषज्ञो का कहना है कि आर्थिक रूपसे कंगाल हो चुके पाकिस्तान में जल्दी ही  भीषण गृह युद्ध होगा। इस गृह युद्ध के दौरान कम से कम चार हिस्सों में टूट जायेगा। 

पुलवामा हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तानी आतंकी गिरोह जैश-ए-मोहम्मद ने ली है। इस डोजियर में पाकिस्तानी एजेंसियों का जिक्र होगा जिनकी मदद से पाकिस्तान में आतंकवाद फल-फूल रहा है। इस दस्तावेज में जैश-ए-मोहम्मद की ओर से भारत में कराए गए सभी आतंकी हमलों का जिक्र होगा। 

बेल आउट पैकेज पर गाज गिरने का असर चीन पर भी होगा। पैसा न होने की वजह से पाकिस्तान तीन साल की निर्धारित अवधि के बाद भी चीन को कर्ज वापसी शुरु नहीं कर पाया है। आईएमएफ के पैकेज से चीन को अपने कर्ज वापसी की शुरुआत की उम्मीद थी। इस तरह भारत का यह डोजियर न केवल पाकिस्तान बल्कि चीन के अड़ियल रवैये को तोड़ने का काम करेगा।

NEXT STORY
Top