पाकिस्तान में इस्लाम अपनाने वाली भारतीय सिख महिला के वीजा पर 30 दिन में फैसला

नई दिल्ली (22 अप्रैल): पाकिस्तान में बैसाखी के जश्न में शामिल होने गई भारतीय सिख महिला ने लाहौर में एक व्यक्ति से शादी कर ली और इस्लाम स्वीकार कर लिया। उसने अपने वीजा की मियाद बढ़ाने की मांग की है। 

इस बीच पाकिस्तान की एक कोर्ट ने सरकार को निर्देश दिया है कि इस्लाम अपनाकर मुस्लिम से शादी कर चुकी भारतीय सिख महिला के वीजा और नागरिकता पर 30 दिन के अंदर फैसला ले। 31 वर्षीय किरण बाला बैसाखी के मनाने पाकिस्तान गए भारतीय जत्थे का हिस्सा थी। आपको बता दें कि किरण का वीजा 21 अप्रैल तक के लिए ही था। 

स्थानीय समाचार पत्र 'एक्सप्रेस ट्रिब्यून' के अनुसार, पंजाब के होशियारपुर जिले के निवासी मनोहर लाल की बेटी किरण बाला ने पाकिस्तानी विदेश विभाग से आवेदन किया था कि उसके वीजा की मियाद बढ़ाई जाए, क्योंकि उसने लाहौर के निवासी मोहम्मद आजम से शादी कर ली है।