'पाकिस्तान को धर्मशाला में टी-20 नहीं खेलना चाहिए'

इस्लामाबाद(7 मार्च): पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान इमरान खान ने कहा है कि हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के घृणायुक्त बयान और प्रतिरोध को देखते हुए राष्ट्रीय टीम को 19 मार्च को धर्मशाला में भारत के साथ खेला जाने वाला टी-20 विश्व कप मैच नहीं खेलना चाहिए।

पाक के एक अखबार के मुताबिक इमरान ने कहा कि मुख्यमंत्री की ओर से जारी बयान से उन्हें दुख पहुंचा है। मुख्यमंत्री ने जो बयान दिया वह एक गैरजिम्मेदारान था और यह पूरी तरह से मेहमाननवाजी और मेजबानी के मापदंडों के खिलाफ है। उनका बयान नफरत को बढ़ावा देने वाला है।

इमरान  ने कहा कि वर्तमान स्थिति को देखते हुए पाकिस्तान को हिमाचल प्रदेश में नहीं खेलना चाहिए। उल्लेखनीय है कि कांगड़ा के शहीदों के परिवार और पूर्व सैनिकों के विरोध को देखते हुए वीरभद्र ने भारत और पाकिस्तान के बीच धर्मशाला में होने वाले मैच वह सुरक्षा मुहैया करवाने में असमर्थ हैं। इनका मानना है कि पाकिस्तान की मेजबानी करना उन सैनिकों की बेइज्जती है जो जनवरी में पठानकोट एयरबेस पर हुए आतंकी हमले में शहीद हो गए थे।