भारत में हमलों के लिए सजायफ्ता कैदियों को भेज रहा है पाकिस्तान

नई दिल्ली (5 दिसंबर): पाकिस्तान फांसी की सजा अथवा अन्य संगीन अपराधों में उम्रकैद की सजा पाने वाले अपराधियों को आतंकवादी हमलों को अंजाम देने के लिए भारत भेज रहा है। कश्मीर में तैनात एक अधिकारी ने बड़ा खुलासा किया है। अधिकारी का कहना है कि पाकिस्तान सरकार आतंकवादियों को पनाह कई रूपों में देती है। वहां की अदालतों में फांसी या उम्रकैद की सजा पाने वाले अपराधियों को यह कहकर भारत में घुसपैठ के लिए प्रेरित किया जाता है कि अगर वे हमलों को अंजाम देकर वापस आएंगे तो उनकी सजा माफ हो जाएगी। अगर इस दौरान ये कैदी मारे गए तो वे शहीद की श्रेणी में आएंगे।

अधिकारी ने कहा कि सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में मारे जाने वाले आतंकवादियों से मिले दस्तावेजों का विश्लेषण करने के बाद इस बात का पता चला कि पाकिस्तान सीमा पार आतंकवादी गतिविधियों को अंजाम देने के लिए सजायाफ्ता अपराधियों को प्रोत्साहित कर रहा है।

उन्होंने बताया कि पाकिस्तान अपने नापाक मंसूबों को अंजाम देने के लिए तरह-तरह के हथकंडों का इस्तेमाल कर रहा है। अधिकारी ने कहा कि पकड़े गए आतंकवादियों ने पूछताछ में कई बार इस बात को स्वीकार किया कि वे गरीबी और धार्मिक कट्टरता के कारण आतंकवाद में शामिल हुए हैं।