वापस पटरी पर आई पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था: फोर्ब्स

नई दिल्ली (5 मार्च): अमेरिका की एक शीर्ष मैगज़ीन में पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था में हुए सुधार की तारीफ की गई है। मैगजीन में दावा किया गया है कि पाकिस्तान में पिछले दिनों में कई सकारात्मक विकास हुए हैं जिसको पहचान मिलनी चाहिए। 

आपको बता दें, अमेरिका की 'फोर्ब्स' मैग्जीन ने कहा है, "इन विकासों के चलते ऐसी नीतियों और निवेशों के लिए माहौल तैयार हुआ है। जिससे पाकिस्तान, इंडोनेशिया और ब्राजील के रास्ते चल सकता है।"

पाकिस्तानी अखबार 'एक्सप्रेस ट्रिब्यून' की रिपोर्ट के मुताबिक, मैगजीन में कहा गया है, कि "पाकिस्तान में पहला शांतिपूर्ण लोकतांत्रिक परिवर्तन 2013 में आया। सेना, सरकार और सिविल सोसाइटी को सुरक्षा मसलों पर विस्तृत तौर पर व्यवस्थित किया गया।"

इसके बाद, रिपोर्ट में यह भी बिंदु उठाया गया है कि देश की अर्थव्यवस्था पिछले कई सालों से विकास कर रही है। इसके अलावा यह इंटरनेशनल मॉनीटरी फंड (आईएमएफ) प्रोग्राम को शुरू करने से अंत तक पूरा करने के लिए इतिहास में पहली बार वापस रास्ते पर आई है।

इसमें कहा गया है, "पाकिस्तान का विकसित होता मध्यम वर्ग 4 करोड़ लोगों से बढ़कर 2050 में 10 करोड़ लोगों तक पहुंच जाएगा। यह बदलाव का ताकतवर इंजन की तरह है। जो बेहतर सेवा और अवसरों की बड़ी उपलब्धता की मांग कर रहा है।" 

मैगजीन में यह भी दावा किया गया है कि पाकिस्तान के एनर्जी सेक्टर में भी काफी संभावनाएं हैं। इसके अलावा यह भी सुझाव दिया गया है कि और भी ज्यादा सक्षम लोगों की उद्योंगों को चलाने के लिए जरूरत है। जो कि भविष्य की वृद्धि को मजबूती देगा। इसके अलावा राष्ट्रीय, प्रांतीय और शहरी सरकारों को चलाने के साथ साथ यूनिवर्सिटीज़ को बढ़ाने में भी मददगार साबित होगा।