पाकिस्तान को गोली का जवाब गोली से देंगे: बिट्टा

वाराणसी (7 फरवरी): वाराणसी पहुंचे आल इंडिया एंटी टेररिस्ट फ्रंट के राष्ट्रीय अध्यक्ष मनिंदरजीत सिंह बिट्टा ने पाकिस्तान पर जमकर अपनी भड़ास निकाली। उन्‍होंने कहा कि संयुक्त राष्ट्र संघ से वह मांग करेंगे कि वह पाकिस्तान को आतंकवादी देश घोषित करे।

बिट्टा ने कहा कि दुनिया के सभी देशों को इसके लिए संयुक्त राष्ट्र पर दबाव बनाना चाहिए। अब पाकिस्तान से बातचीत का वक्त खत्म हो चुका है। बातचीत का खामियाजा भारत पठानकोट में देख चुका है। पठानकोट में आतंकी हमला कर पाकिस्तान ने पीठ में छुरा घोंपने का काम किया है। समय आ चुका है कि गोली का जवाब गोली से दिया जाए। आतंकवाद से लडऩे के लिए सभी राजनीतिक दलों को मिलकर एक नीति बनानी चाहिए। उन्‍होंने कहा कि एंटी टेररिस्ट कानून बनाने की जरूरत है। पकड़े जाने वाले आतंकियों के संबंध में छह महीने के भीतर फैसला लेना होगा। इसके लिए कोर्ट मार्शल की नीति अपनानी होगी। हमारा देश धर्म निरपेक्ष है और उसे तोडऩे के लिए कई हथकंडे अपनाए जा रहे हैं। इमाम भी आतंक के खिलाफ आवाज उठाएं नहीं तो देश का बड़ा नुकसान होगा। वे हैदराबाद के कट्टर नेता ओवैसी का विरोध करें।   बिट्टा ने बताया कि जम्मू-कश्मीर के बाद पंजाब आतंकियों के निशाने पर है। पठानकोट से लगने वाली सीमा उनके लिए मुफीद है क्योंकि वहां लगे बाड़ हर छह माह में टूट जाते हैं। इससे आतंकी सीमा पार कर जाते हैं। उन्होंने पुलिस की सुरक्षा नीति गुजरात जैसी पूरे देश में लागू करने पर बल दिया। आइएसआइएस युवाओं को भ्रमित कर रहा है। इस आतंकी संगठन ने उनको भी जान से मारने की धमकी दी थी।