पाक ने स्कूली किताबों से हिंदुओं, भारत के खिलाफ विवादित बातें हटाईं

नई दिल्ली (17 अप्रैल): पाकिस्तान ने अपने देश के स्कूली पाठ्यक्रम में शामिल कई ऐसी विवादित बातों को हटा दिया है, जो भारत और हिंदुओं के खिलाफ रही हैं। 

पाकिस्तान ने इसके अलावा देश के अन्य अल्पसंख्यक समुदायों के खिलाफ भी लिखीं गईं कुछ विवादित बातों को हटाया है। अमेरिका में पाकिस्तान के राजदूत जलील अब्बास जिलानी ने इस बात की जानकारी दी है। इन किताबों की पहुंच चार करोड़ से ज्यादा बच्चों तक है।

पाकिस्तानी अखबार डॉन की रिपोर्ट के मुताबिक, जिलानी ने अमेरिकी सरकार की तरफ से पाकिस्‍तान के स्‍कूली पाठ्यक्रम में विवादित चीजों को लेकर कराए गए एक अध्ययन के जवाब में ऐसा कहा है। दरअसल, अमेरिकी सरकार के समर्थन वाले एक आयोग ने 'पाकिस्तान में असहिष्णुता की पढ़ाई व स्कूली किताबों में धार्मिक भेदभाव' नाम से यह स्टडी की थी।

जिलानी ने कहा, "इस अध्ययन को आधार मानकर, रिपोर्ट में कहा गया कि धार्मिक असहिष्णुता के ज्यादातर मामले 2011 के स्कूली पाठ्यक्रम के हैं। जिन्हें हटाया जा चुका है। रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि इस बारे में कार्रवाई की जा रही है।"