पाकिस्तान की नई चाल- 3 RAW एजेंट पकड़ने का किया दावा


नई दिल्ली(15 अप्रैल): पाकिस्तान पुलिस ने भारत की खुफिया 'एजेंसी रिसर्च ऐंड अनैलेसिस विंग के तीन संदिग्ध एजेंट्स को पाक अधिकृत जम्मू-कश्मीर में पकड़ने का दावा किया है।


- पाकिस्तान के अखबार डॉन के मुताबिक, इन पर एक पुलिस स्टेशन में ब्लास्ट करने समेत कई राष्ट्र-विरोधी गतिविधियों में शामिल होने के आरोप हैं।


- रवालाकोट में पुलिस अधिकारियों ने इन संदिग्धों को नकाब पहनाकर मीडिया के सामने पेश किया। इनके नाम मोहम्मद खलील, इम्तियाज और रशीद हैं।


- इन सभी को अब्बासपुर के टरोटी गांव का रहने वाला बताया गया है।


- पुलिस ने बताया कि दो आरोपियों की उम्र 30-35 साल है जबकि दूसरा 20-25 साल का है।


- पुंछ में डेप्युटी सुपरिटेंडेंट (DSP) साजिद इमरान ने खलील को मुख्य संदिग्ध बताया। रिपोर्ट के मुताबिक वह नवंबर 2014 में (भारत) कश्मीर के बंदी चेचियां गांव में अपने रिश्तेदारों से मिलने आया था। यहां उसका संपर्क RAW के अधिकारियों से हुआ जिन्होंने उसे लालच देकर अपना काम करवाने के लिए राजी कर लिया।


-  पाक अधिकारी के मुताबिक, खलील ने इंट्रा-कश्मीर ट्रैवल परमिट प्राप्त करने के बाद यह काम करना शुरू किया। वापस लौटने पर उसने अपने ही गांव के इम्तियाज और रशीद को उसके साथ काम करने के बदले 'अच्छी खासी रकम' देने की बात कही।


-  पुलिस ने कहा कि शुरुआती जांच में खलील ने बताया कि वह अब्बासपुर सेक्टर के अलग-अलग हिस्सों से करीब 14-15 बार नियंत्रण रेखा (LoC) पार कर चुका है, जबकि उसके साथी 5-6 बार LoC पार कर चुके हैं।