पाकिस्तान का नया प्लान, कश्मीर के युवाओं को भड़काकर बना रहा आतंकी

नई दिल्ली(10 फरवरी): एक तरफ जहां पाकिस्तान हाफिज सईद को नजरबंद कर आतंकियों पर कारवाई की बात करता है, तो वहीं उसकी सरजमीं पर अभी भी आतंकी गतिविधियों की कोई कमी नहीं आई है।

-एक अंग्रेजी अखबार के मुताबिक पाकिस्तान में पहले कि ही तरह आतंक को बढ़ावा देने का काम जारी है। लेकिन पाकिस्तान इस बात को लेकर डरा भी हुआ है कि कहीं यूएस की तरफ से उसको मिलने वाली आर्थिक मदद रोक ना दी जाए। इसलिए अब पाकिस्तान अपने काम के तरीके में बड़ा बदलाव ला रहा है।

- खबर है कि जैश ए मोहम्मद पर बैन के डर से पाकिस्तान उसके जैसा एक नया संगठन बनाने की तैयारी शुरू कर चुका है।

- सबसे ज्यादा खतरे की बात यह है कि पाकिस्तान ने कश्मीर में अपनी जड़ें मजबूत करना शुरू कर दिया है। ऐसे में पाकिस्तान की तरफ से कश्मीर के कम उम्र के बच्चों को निशाना बनाया जा रहा है। इनमें ज्यादातर वो युवा शामिल हैं जो घाटी के गांवों में रहते हैं और सेना पर पत्थर फेंककर अपना विरोध दर्ज करवाते हैं।

- पाकिस्तान उन कश्मीरी युवाओं को लेकर भारत के खिलाफ लड़ाई के लिए एक आर्मी तैयार करना चाहता है। पाकिस्तान का यह प्लान अभी शुरुआती स्तर पर है। अभी वह कश्मीर के युवाओं को भटका कर अपने साथ मिलाने की कोशिश में है। अगले चरण में उन लोगों को हथियार और बाकी सामान के लिए पैसे का इंतजाम किया जाएगा।

- जिन युवाओं को पाकिस्तान तैयार कर रहा है उनमें से ज्यादातर को बंदूक चलाना भी नहीं आता। उन्हें जंगल, खराब मौसम जैसी कठिन परिस्थिति में रहने की आदत भी नहीं है।

- इंटेलिजेंस से यह भी पता लगा है कि हाफिद सईद के नजरबंद किए जाने का पीओके में चल रहे आंतक की ट्रेनिंग वाले कैंपों पर भी कोई फर्क नहीं पड़ा है।