पाकिस्तान पर आगे भी हो सकती है सर्जिकल स्ट्राइक: सेना प्रमुख बिपिन रावत

नई दिल्ली ( 3 जनवरी ): नए सेना प्रमुख बिपिन रावत ने पाकिस्तान को चेतावनी देते हुए कहा है कि पड़ोसी देश को सीमा पार से घुसपैठ और आतंकवाद को बढ़ावा देने से परहेज करना चाहिए वरना भारतीय सेना के पास ऐसी गतिविधियों को अंजाम देने वालों को ध्वस्त करने के लिए पर्याप्त क्षमता है।

सेना प्रमुख बिपिन रावत ने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक पाकिस्तान को सबक सिखाने के लिए की गई एक कार्रवाई थी। उन्होंने यह भी कहा कि आने वाले वक्त में भी जरूरत पड़ने पर ऐसी कार्रवाई की जाती रहेंगी। बिपिन रावत ने यह बातें एक इंटरव्यू में कहीं। 

उन्होंने आगे कहा कि अगर बॉर्डर पार बैठे आतंकी लाइन ऑफ कंट्रोल (LoC) पर स्थिति बिगाड़ने की कोशिश करेंगे तो ऐसी कार्रवाई वक्त-वक्त पर होती रहेंगी। रावत ने कहा कि उन्हें (सेना) को आतंकियों के खिलाफ ऐसी कार्रवाई करने का पूरा हक है। बिपिन रावत ने सर्जिकल स्ट्राइक के सफल ऑपरेशन के लिए दलबीर सिंह सुहाग को श्रेय दिया।

जनरल रावत ने देश की सेना के 27वें प्रमुख के रूप में शनिवार (31 दिसंबर, 2016) को पदभार संभाला था। गौरतलब है कि पद भार संभालते ही सेना प्रमुख ने कहा था कि सेना की भूमिका सीमा पर शांति बनाए रखने की है लेकिन वह ‘‘जरूरत पड़ने पर अपनी ताकत का इस्तेमाल करने से नहीं’’ चूकेगी।