अमेरिका ने रोकी मदद तो गिड़गिड़ाया पाकिस्तान

इस्लामाबाद (25 अगस्त): अमेरिका की ओर से मिलने वाले 300 मिलियन डॉलर की मदद रोकने पर पाकिस्तान ने अफसोस जाहिर किया है। पाक ने कहा है कि उसने अफगानिस्तान में सक्रिय हक्कानी नेटवर्क समेत सभी आतंकी संगठनों पर कार्रवाई, लेकिन अमेरिका ने इनपर ध्यान नहीं दिया और उसे मिलने वाली मदद को रोक दिया।

अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा के प्रतिनिधि पीटर लवॉय से मीटिंग के दौरान पाकिस्तान के विदेश सचिव एजाज अहमद चौधरी ने यूएस की ओर से सैन्य सहायता रोके जाने पर अपनी चिंता जाहिर की...

- अमेरिकी रक्षा मंत्री ऐश्टन कार्टर ने हक्कानी नेटवर्क के खिलाफ पाकिस्तान की कार्रवाई को पर्याप्त नहीं माना।

- जिसके बाद अमेरिकी संसद ने पाक को दी जाने वाली सहायता राशि को मंजूरी नहीं दी। - इसके बाद पेंटागन ने पाक को दी जाने वाली 300 मिलियन डॉलर की सहायता रोक दी। - पाक को यह राशि अफगान में आतंकवादी संगठनों के खिलाफ उसकी सैन्य कार्रवाई के एवज में दी जानी थी।

- पाकिस्तान ने कहा कि हक्कानी नेटवर्क समेत सभी आतंकवादी संगठनों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने के बाद भी अमेरिका ने इसपर विचार करने से इनकार कर दिया।

गौरतलब है कि गुरिल्ला हमलों के लिए कुख्यात आतंकवादी संगठन हक्कानी नेटवर्क ने अमेरिका की नेतृत्व वाली नाटो सेना और अफगान सुरक्षा बलों के निशाने पर है। हक्कानी नेटवर्क के खिलाफ जंग में पाकिस्तान भी अमेरिकी सुरक्षा बलों का साझीदार है।