कुलभूषण जाधव कहां है, पाकिस्तान ने कोई जानकारी साझा नहीं की- भारत सरकार

नई दिल्ली(13 अप्रैल): भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव को लेकर पाकिस्‍तान किसी तरह का सहयोग नहीं कर रहा है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता गोपाल बागले ने गुरुवार (13 अप्रैल) को एक प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में कहा कि पाकिस्‍तान ने जाधव की लोकेशन के बारे में कोई जानकारी साझा नहीं की है। यानी भारत सरकार को यह पता नहीं है कि उसका नागरिक कहां पर है।


-  बागले ने यह भी बताया कि अभी तक पाकिस्‍तान ने दूतावास के जरिए की गई सभी अपीलों को नकार दिया है। बागले के मुताबिक, भारत सरकार को नहीं पता कि जाधव कहां और किस हाल में है। बागले ने कहा क‍ि ‘कुलभूषण जाधव निर्दोष भारतीय है जिसका अपहरण किया गया। वह भारतीय नौसेना का रिटायर्ड अधिकारी है। ये दोनों तथ्‍य पाकिस्‍तान को साल भर पहले बताए गए थे, जब उसकी अवैध कस्‍टडी के बारे में हमें पता चला था। उसे अपहृत कर पाकिस्‍तान ले जाया गया और तब से वह वहीं पर है। हमने 13 बार दूतावास के जरिए उसकी जानकारी लेनी चाही, मगर हर बार मना कर दिया गया। हम नहीं जानते कि उन्‍हें कहां रखा गया है( वह कैसे हैं, हमें उनकी हालत के बारे में नहीं पता।’


- विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने राज्यसभा में कहा था, ”कुलभूषण जाधव द्वारा कुछ भी गलत करने के कोई सबूत नहीं हैं। यह सुनियोजित हत्या जैसा है।” उन्होंने कहा था कि सरकार पाकिस्तान के सर्वोच्च न्यायलाय में अपील करेगी और ‘देश के बेटे’ को बचाने के लिए राष्ट्रपति के समक्ष याचिका देगी। स्‍वराज के अनुसार, भारत यह सुनिश्चित करने में कोई कसर नहीं छोड़ेगा कि पाकिस्तान में भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव को न्याय मिले। उन्होंने कहा ”हमारे पास यह कहने के अलावा और कोई विकल्प नहीं है कि अगर इस सजा की तामील की जाती है तो यह सुनियोजित हत्या की कार्रवाई होगी।”


- सुषमा ने कहा कि कुलभूषण जाधव पर जो आरोप लगाए गए हैं, वह मनगढ़ंत तथा हास्यास्पद हैं और उनके द्वारा गलत काम करने का कोई सबूत नहीं है। उन्होंने कहा कि जाधव ईरान में कारोबार करते थे और वहां से उनका अपहरण कर पाकिस्तान लाया गया। उन्हें बचाव का मौका दिए बिना मुकदमा चलाया गया।