पाकिस्तान में दूध को लेकर मचा हाहाकार, इस वजह से कीमत पहुंचा 180 के पार


न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (13 अप्रैल): आतंकियों के लिए जन्नत बने खस्ताहाल पाकिस्तान में महंगाई लगातार सातवें आसमान पर पहुंचता जा रहा है। पाकिस्तान जहां एक-एक पैसों के लिए दुनियाभर के देशों का मोहताज बनता जा रहा है वहीं लगातार बढ़ती महंगाई ने पाकिस्तानी आवाम की कमर तोड़कर रख दी है। सब्जियों, पेट्रोल, डीजल आदि की ऊंची कीमतों के बाद अब जनता पर महंगे दूध की मार पड़ रही है। आलम ये है कि यहां एक लीटर दूध की कीमत 180 रुपये प्रति लीटर के पार पहुंच चुकी है। इससे खुदरा बाजार में दूध की कीमत 120 से 180 रुपए प्रति लीटर तक पहुंच गई हैं।

 चारा और अन्य पशु आहारों की कीमतें बढ़ने के बाद दूध विक्रेताओं ने अचानक दूध की कीमतों में बढ़ोतरी कर दी है। कराची डेयरी फार्मर्स एसोसिएशन ने बुधवार को अचानक दूध के दामों में 23 रुपये लीटर की बढ़ोत्तरी कर दी जिससे इसकी कीमत 120 रुपये लीटर तक जा पहुंची। पहले से ही मंहगाई से जूझ रहे लोगों का बजट दूध के दाम बढ़ने से बिगड़ गया है। खुदरा बाजार में दूध 120 से लेकर 180 रुपये लीटर तक बिक रहा है। एसोसिएशन का कहना है कि सरकार से कई बार आग्रह करने के बाद भी कीमतें बढ़ाने की अनुमति नहीं मिलने से किसानों को दाम बढ़ाने के लिए मजबूर होना पड़ा है।

आपको बता दें कि पाकिस्तान आर्थिक मोर्चे पर बदहाली का सामना कर रहा है। पाकिस्तान में पिछले पांच साल के दौरान मंहगाई रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गई हैं। बीते मार्च में मंहगाई दर 9.4 फीसदी पहुंच गई थी। दूध के अलावा पाकिस्तान में सब्जियों, दालों, फलों और मांस की कीमतें लगातार बढ़ रही हैं। अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए कुछ दिन पहले पाकिस्तान सरकार ने पेट्रोलियम उत्पादों में बड़ी बढ़ोत्तरी की थी। महंगाई बढ़ने, रुपये में गिरावट और कच्चे तेल की बढ़ती कीमतों से पाकिस्तान के केंद्रीय बैंक ने ब्याज दरें बढ़ाकर 10.75 फीसदी कर दी है।