'एक के बदले दुश्मन के तीन सिर काटो'


नई दिल्ली(4 मई): पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने बुधवार को कहा कि पाकिस्तानी बलों द्वारा हमारे एक सैनिक के सिर काटे जाने पर भारतीय सेना को दुश्मन के तीन सिर काटने चाहिए।


- 1965 की जंग के वक्त सेना में सेवाएं दे चुके सिंह ने कहा कि भारत को पूर्णकालिक रक्षा मंत्री की जरूरत है।


- जम्मू कश्मीर के पुंछ जिले में नियंत्रण रेखा पर दो भारतीय सैनिकों की बर्बर हत्या और शरीर क्षत-विक्षप्त की घटना पर प्रतिक्रिया देते हुए कैप्टन अमरिंदर ने कहा कि भारत का जवाब स्पष्ट होना चाहिए। उन्होंने कहा, 'हमें सज्जनों की सेना बनना बंद करना चाहिए। अगर वे (पाकिस्तान) हमारा एक सिर काटते हैं तों हमें उनके तीन सिर काटने चाहिए।'


- मुख्यमंत्री ने कहा कि वह पंजाब के तरनतारण के एक गांव में नायब सूबेदार परमजीत सिंह के अंतिम संस्कार में इसलिए शामिल नहीं हो पाए क्योंकि वह पैर में चोट के कारण चलने में असमर्थ थे। परमजीत की सोमवार को नियंत्रण रेखा पर हत्या कर दी गई थी।


- अमरिंदर ने स्पष्ट किया कि वह भारतीय सेना को ज्यादा शक्तियां देने तक जम्मू कश्मीर में बातचीत का समर्थन नहीं करते। मुख्यमंत्री ने छत्तीसगढ़ और जम्मू कश्मीर में हिंसा के लिए प्रधानमंत्री को जिम्मेदार नहीं ठहराया लेकिन कहा कि देश को एक 'पूर्णकालिक रक्षा मंत्री' की जरूरत है।